बिलासपुर चंबा हमीरपुर कांगड़ा किन्नौर कुल्लू लाहौल-स्पीति मंडी शिमला सिरमौर सोलन ऊना
ताज़ा ख़बरें
कोरोनाः 477 संक्रमित, 227 मरीज हुए ठीककोरोनाः बिना मास्क के घूमने वालों के काटे चालानसंगीत की ताकत बताती है एआर रहमान की फिल्म 99 SONGS ; पढ़ें रिव्यू, देखें फिल्मकोरोनाः 10 हारे जिंदगी की जंग, कुंभ से लौटे 8 श्रद्धालुओं समेत 971 नए मामलेकोरोनाः 1 नया मामला आयाIPL 2021: वॉर्नर-जॉनी की शानदार पारी काम नहीं आई, मुंबई से 13 रन से हारा हैदराबादहमीरपुर: 69 लोग निकले कोरोना पाॅजिटिवकांगड़ा: कोरोना से तीन की मौत, 258 नए संक्रमित मिलेसीएम ने कोरोना से लड़ाई में उद्योगपतियों का सहयोग मांगाभाषा, शास्त्री व कला अध्यापक के लिए भूतपूर्व सैनिक आश्रित करें आवेदनशुद्ध हवा और जल की उपलब्धता में वन संपदा महत्वपूर्ण: डीसी चंबाराज्यपाल ने कोविड वैक्सीन की दूसरी खुराक ली अप्रेंटिस के 100 पदों पर भर्ती करें आवेदनपंचायतों में जल संग्रहण तालाब बनाने को विभाग तैयार करे योजना:डीसीहोम आईसोलेट मरीजों की स्वास्थ्य मापदंडानुसार नियमित निगरानी हो: सीएमशाहपुर में किया जाएगा इंडोर स्टेडियम का निर्माण:सरवीण चौधरी

मनोरंजन

संगीत की ताकत बताती है एआर रहमान की फिल्म 99 SONGS ; पढ़ें रिव्यू, देखें फिल्म

संगीत की ताकत बताती है एआर रहमान की फिल्म 99 SONGS ; पढ़ें रिव्यू, देखें फिल्म

एआर रहमान जो कि भारतीय फिल्मों के नामचीन संगीतकार के तौर शुमार हैं-उनकी यह फिल्म ऐसे समय में रिलीज हुई जब देश एक बार फिर कोरोना वायरस की दूसरी लहर की चपेट में है। ऐसे में जितने लोगों ने भी यह फिल्म देखी-उनकी राय में यह एक बेहतरीन फिल्म है। हालांकि अप्रैल में कई बड़ी फ़िल्मों की रिलीज़ डेट आगे खिसक चुकी है लेकिन एआर रहमान इस पर राजी नहीं हुये। शायद उनका मानना था कि उनकी यह फिल्म वैसे भी कॉमर्शियल सक्सेस के लिए नहीं है। वह तो इस फिल्म के जरिये आम लोगों तक संगीत की ताकत पहुंचाना चाहते हैं।

अपने दिल में ‘मुख्य हीरोइन’ बनने की टीस लिये दुनिया से चली गईं अभिनेत्री शशिकला

अपने दिल में ‘मुख्य हीरोइन’ बनने की टीस लिये दुनिया से चली गईं अभिनेत्री शशिकला

सत्तर के दशक की बेहद खूबसूरत अभिनेत्री के तौर पर विख्यात शशिकला का जन्म महाराष्ट्र के सोलापुर में 4 अगस्त 1932 में हुआ था। उनका पूरा नाम शशिकला जवलकर था। उनका ताल्लुक एक मराठी परिवार से था। उन्होंने कम उम्र में ही काम करना शुरू कर दिया था। उन्हें बचपन से अभिनय और नृत्य का शौक था। परिवार उस वक्त सोलापुर में ही रहता था। लेकिन पिता का बिजनेस ठप्प हो जाने के बाद वह मुंबई आ गईं। यहां उनकी मुलाकात उस वक्त की मशहूर कलाकार नूरजहां से हुई। और पहली फिल्म मिली-जीनत, जिसे नूरजहां के पति शौकत रिजवी ने बनाया था। इस फिल्म में शशिकला को कव्वाली सीन मिला था। यह सन् 1945 की बात है। इस फिल्म के बाद उन्हें कई और फिल्में मिलीं। आगे चलकर उन्होंने शम्मी कपूर के साथ फिल्म डाकू में भी काम किया और हमजोली, सरगम, चोरी चोरी, नीलकमल, अनुपमा जैसी फिल्में मिलीं। उनकी हर छोटी-बड़ी भूमिका काफी पसंद की जाती थी। उनकी दिलकश मुस्कान और खूबसूरती के सभी कायल थे।

बाप हो या दद्दू, कॉमेडियन हो या विलेन-हर रोल में फिट ओमप्रकाश की जिंदगी बायोपिक से कम नहीं!

बाप हो या दद्दू, कॉमेडियन हो या विलेन-हर रोल में फिट ओमप्रकाश की जिंदगी बायोपिक से कम नहीं!

19 दिसंबर 1919 को जम्मू में जन्मे ओमप्रकाश (बक्शी) को लोग आमतौर पर कॉमेडियन के रूप में जानते हैं। लेकिन वास्तव में उन्हें एक्टिंग के किसी के फ्रेम में बांधना ज्यादती है। वो किवदंती थे। किसी भी किरदार में बांध दो, फिट हो जाते थे। चाहे विलेन हो या कॉमेडियन या सहृदय बाप या कंजूस दादा। वो कोई कार्टून किस्म के कॉमेडियन नहीं थे। कॉमेडी उनकी वाणी में थी, अंदाज़ में थी। उनकी लाईफ़स्टाइल थी। बहुत ही मज़ेदार शख्स। इसके उलट उनकी ज़िंदगी बहुत ट्रैजिक और उतार-चढ़ाव वाली रही, बावज़ूद इसके कि वो एक अमीर ख़ानदान से ताल्लुक रखते थे। जम्मू में उनके पिता की अथाह ज़मीन-जायदाद थी। मस्ती और मसखरी, आराम की ज़िंदगी चल रही थी। उन्हें जाने कैसे संगीत का शौक चर्राया। वो गाने लगे। इसी शौक के तहत वो ऑल इंडिया रेडियो पहुंच गए। वहां वो एक्टिंग भी करने लगे। एक साप्ताहिक प्रोग्राम में उन्हें फ़तेहदीन का रोल मिला। बहुत मशहूर हुआ ये। तब उन्हें 40 रूपए महीना तनख्वाह मिलती थी। एक दिन एक समारोह में उन्हें ठिठौली करते फिल्म प्रोड्यूसर दलसुख पंचोली ने देखा। लाहौर आने की दावत दी। ये पार्टीशन से पहले का दौर था। तब लाहौर नॉर्थ इंडिया की बहुत बड़ी फिल्म नगरी थी, उर्दू और पंजाबी फिल्मों का बहुत बड़ा सेंटर।

अब स्टार भारत के शो ‘तेरी लाडली मैं’ में भी दिखेंगी ‘निमकी मुखिया’ फेम नीलिमा सिंह

अब स्टार भारत के शो ‘तेरी लाडली मैं’ में भी दिखेंगी ‘निमकी मुखिया’ फेम नीलिमा सिंह

चर्चित धारावाहिक निमकी मुखिया और निमकी विधायक की अनारो यानी नीलिमा सिंह अब स्‍टार भारत के अगले शो तेरी लाडली मैं में भी नजर आयेंगी। इस शो में नीलिमा सिंह वैशाली के किरदार में नजर आयेंगी। इसकी जानकारी उन्‍होंने अपने इंस्‍टाग्राम अकाउंट से दी है। नीलिमा सिंह ने इंस्‍टाग्राम पर अपनी एक तस्‍वीर शेयर करते हुए लिखा-‘पूरी दुनिया भ्रमण करने के बाद घर लौट कर जो सुकून और खुशी मिलती है, उसकी तो बात ही कुछ अलग है।‘

सत्य साईं बाबा बने भजन सम्राट अनूप जलोटा, पढ़ें बाबा क्‍यों कहते थे उन्‍हें छोटे बाबा

सत्य साईं बाबा बने भजन सम्राट अनूप जलोटा, पढ़ें बाबा क्‍यों कहते थे उन्‍हें छोटे बाबा

मुंबई, 12 जनवरी। भजन गायक अनूप जलोटा जल्‍द ही सत्‍य साईं बाबा के अवतार में न जर आने वाले हैं। वे सत्य साईं बाबा की बायोपिक में उनका रोल निभाने जा रहे हैं। जलोटा इन दिनों सत्य साईं बाब के लुक में ही फिल्म के प्रमोशन में जुटे हुए हैं। उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं। एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए अनूप जलोटा ने बताया कि वह 55 साल पहले लखनऊ में पहली बार सत्य साईं बाबा से मिले थे और उस उनकी आयु 12 साल थी।

नज़ीर हुसैन, INA से रिटायर्ड होने के बाद बने अभिनेता और बनाई भोजपुरी की पहली फिल्म

नज़ीर हुसैन, INA से रिटायर्ड होने के बाद बने अभिनेता और बनाई भोजपुरी की पहली फिल्म

ग़रीब और बेरोज़गार मज़दूर-सा दिखता हुआ या बच्चों द्वारा ठुकराया दर-दर भटकता हुआ आदमी…रोता हुआ और जिसके मुंह से शब्द बाद में फूटे, आंखों से आंसू पहले टपके। फ़िल्मी दुनिया के पचास से सत्तर के सालों में ऐसे किरदार के लिए सबसे पहली पसंद होते थे-नज़ीर हुसैन। वो ऐसे किरदारों को इतने परफेक्शन के साथ करते थे कि मुर्दा किरदार जीवंत हो उठते थे। इसीलिए उन्हें ‘आंसूओं का कनस्तर’ भी कहा जाता था।

गर्ल लुकिंग फॉर अ डोर : कम बजट में भी महिला सुरक्षा पर कमाल की फिल्म

गर्ल लुकिंग फॉर अ डोर : कम बजट में भी महिला सुरक्षा पर कमाल की फिल्म

ओटीटी पर इन दिनों कई सोद्देश्य फिल्में भी रिलीज हो रही हैं। यह कोरोना काल की बड़ी उपलब्धि है। लेखक-निर्देशक अजय आनंद ने भी सामाजिक मुद्दों पर गर्ल लुकिंग फॉर अ डोर (Girl looking for a door) बनाकर इसी नई प्रवृति को साबित किया है। अजय वैसे भी सामाजिक मुद्दों पर फिल्म बनाने के लिए जाने जाते हैं। उनकी पहली फिल्म लंगड़ा राजकुमार गरीबी और शिक्षा पर आधारित थी। अजय अब अपनी अगली फिल्म गर्ल लुकिंग फॉर आ डोर में महिला सुरक्षा जैसा ज्वलंत मुद्दा उठाया है। यह फिल्म एमएक्स प्लेयर (MX PLAYER) पर प्रदर्शित हुई है।

पंजाबी सिंगर मेघा चोपड़ा ने किसानों को किया समर्पित अपना ताजा पॉपुलर लोहड़ी गीत

पंजाबी सिंगर मेघा चोपड़ा ने किसानों को किया समर्पित अपना ताजा पॉपुलर लोहड़ी गीत

पंजाबी सिंगर मेघा चोपड़ा Megha Chopra का लोहड़ी सांग अब धीरे धीरे काफी सुना जाने लगा है। चूंकि किसी भी भारतीय त्योहार में गीत-संगीत चार चांद लगाते हैं।

जन्मदिन पर बहुत याद आए इरफान खान

जन्मदिन पर बहुत याद आए इरफान खान

मुंबई, 07 जनवरी। इरफन खान के बेटे बाबिल और बॉलीवुड की कई हस्तियों ने गुरुवार को उनकी 55 वीं जयंती पर दिवंगत अभिनेता को याद किया। पिछले साल अप्रैल में इरफान की एक दुर्लभ प्रकार के कैंसर से मौत हो गई थी। मकबूल, नेमसेक, पान सिंह तोमर और हिंदी मीडियम जैसी फिल्मों में बेहतरीन अदाकारी के कारण भारत के सर्वश्रेष्ठ अभिनेताओं में शुमार इरफान के निधन के बाद उनके प्रशंसक, परिवार और पूरा देश शोक में डूब गया था।

चेतन आनंद ने पहली बार फिल्मी पर्दे पर दिखाई थी चीन की चालाकियों की पूरी ‘हकीकत’!

चेतन आनंद ने पहली बार फिल्मी पर्दे पर दिखाई थी चीन की चालाकियों की पूरी ‘हकीकत’!

तीन जनवरी को हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री के महान फिल्मकार चेतन आनंद की जयंती है। वो डायरेक्टर, प्रोड्यूसर और राइटर भी थे। उन्होंने देश को पहली बार पीठ में छुपा घोंपने वाली चीन की चतुराई की वास्तविक तस्वीर दिखाई थी। सन् 1964 में देशवासियों और जवानों का मनोबल बढ़ाने के लिए चेतन आनंद ने हक़ीक़त बनाई। जिसकी अधिकांश शूटिंग लद्दाख की पंद्रह हज़ार फ़ुट की दुर्गम बर्फ़ीली पहाड़ियों में हुई थी। हकीकत देशभक्ति की एक लीजेंड फिल्म है। कैफी आजमी के लिखे उस फिल्म के देशभक्ति तराने आज भी राष्ट्रीय पर्व पर शान के साथ बजाये जाते हैं।

खेसारीलाल यादव की ‘दुल्हिन वही जो पिया मन भाये’ का फर्स्ट लुक जारी, जानिये क्या है खास?

खेसारीलाल यादव की ‘दुल्हिन वही जो पिया मन भाये’ का फर्स्ट लुक जारी, जानिये क्या है खास?

भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री से नया साल 2021 के पहले दिन नई फिल्म दुल्हिन वही जो पिया मन भाये का पोस्टर जारी हुआ। यह फिल्म अभय सिन्‍हा एंड इजमाईट्रिप डॉटकॉम लेकर आ रही है। फिल्‍म का ट्रेलर भी जल्‍द ही जारी किया जायेगा। फिल्‍म में भोजपुरी सुपरस्‍टार खेसारीलाल यादव, सिजलिंग काजल राघवानी, मधु शर्मा और पद्म सिंह मुख्‍य भूमिका में नजर आने वाले हैं। फिल्‍म के जारी पोस्‍टर के एक भाग में खेसारीलाल यादव, काजल राघवानी के साथ और दूसरे भाग में मधु शर्मा के साथ दिखाई दे रहे हैं। फिल्‍म का फर्स्‍ट लुक बताता है कि...

ड्रग्स रैकेट में फंसी रिया चक्रवर्ती को 2021 में मिली फिल्म, लेकिन क्या दर्शक भी मिलेंगे?

ड्रग्स रैकेट में फंसी रिया चक्रवर्ती को 2021 में मिली फिल्म, लेकिन क्या दर्शक भी मिलेंगे?

सुशांत सिंह सुसाइड और ड्रग्स रैकेट केस में रिया चक्रवर्ती की संदिग्ध भूमिका को लेकर पिछले साल 2020 में जिस तरह से देश भर में चर्चा होती रही, वह किसी से छुपा नहीं है। रिया को अभी पूरी तरह से क्लिनचिट नहीं मिली है। इसी बीच नये साल 2021 में उसके और सुशांत के दोस्त रूमी जाफरी ने रिया के साथ नई फिल्म करने का एलान कर दिया है। लेकिन सवाल कई हैं। उनमें सबसे बड़ा सवाल तो ये है कि रिया को फिल्म तो मिल गई लेकिन जब तक सभी केस से पूरी तरह से बरी ना हो जाए तब तक अपने फेवर में फैन्स कहां से लाएगी? और उसकी फिल्म को दर्शक कितना स्वीकार कर पाएंगे?

12345678910...
News/Articles Photos Videos Archive Send News

Himachal News

Email : editor@firlive.com
Visitor's Count : 1,23,82565
Copyright © 2016 First Information Reporting Media Group All rights reserved.
Website Designed by Mozart Infotech