Wednesday, July 24, 2024
BREAKING
सरकारी स्‍कूलों में छात्रों की भारी गिरावट पर सीएम चिंतित, स्कूल होंगे मर्ज मुख्यमंत्री ने केंद्रीय बजट को निराशाजनक और किसान विरोधी बताया सभी वर्गों के सशक्तिकरण का साधन है केंद्रीय बजट: जयराम ठाकुर नादौन में 100 पदों के लिए इंटरव्‍यू 24 को, वेतन 16157 रुपये परिवहन निगम में 357 कंडक्टरों को जल्द मिलेगी नियुक्ति: मुकेश अग्निहोत्री सीएम ने अम्रुत योजना में पहाड़ी राज्यों के लिए मापदंडों में ढील देने का आग्रह किया कांगड़ा में एटीएम चोरी के प्रयास में कोहाला के तीन युवक दबोचे हिमकेयर योजना के तहत की गई 100 करोड़ रुपये की प्रतिपूर्ति: संजय अवस्‍थी जयराम झूठे, 2023-2024 में शगुन योजना के तहत 4,662 बेटियों को दिए 14.45 करोड़: शांडिल ऊना और हमीरपुर में नौकरी का मौका, कंपनियां भरेंगी विभिन्‍न ट्रेडों के कई पद
 

मनाली: पर्यटकों से बदसलूकी रोकेगी एचपी ट्रेवल एजेंट्स एसोसिएशन

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Monday, April 04, 2016 22:50 PM IST

एकजुट हुए ट्रेवेल एजेंट, 18 अप्रैल को होगा कार्यकारिणी का गठन


मनाली, 04 अप्रैल। हिमाचल प्रदेश आने वाले पर्यटकों को विश्वस्तरीय आतिथ्य-सत्कार देने व इनसे होने वाली बदसलूकी रोकने के लिए अब प्रदेश के ट्रेवल एजेंट्स एकजुट हो रहे हैं। एचपी ट्रेवल एजेंट्स एसोसिएशन ने अपने इस उद्देश्य को पूरा करने के लिए अपनी कार्यकारिणी का विस्तार शुरू कर दिया है। इसमें प्रदेश के अधिक से अधिक ट्रेवल एजेंट्स को रजिस्टर करने की मुहीम शुरू कर दी है। इस वावत रविवार को मनाली में एक मीटिंग हुई। इसमें भारी संख्या में ट्रेवल एजेंट्स ने भाग लिया और अपनी समस्याओं को सांझा किया। एसोसिएशन के प्रधान अनिल शर्मा ने कहा कि पर्यटकों से ट्रेवेल एजेंट, होटलियर्स, टैक्सी चालक व पर्यटक सेवा प्रदान करने वाले दूसरे लोगों द्वारा बदसलूकी के बहुत से मामले सामने आते रहे हैं जो कि पर्यटन उद्योग व हिमाचल की छवि के लिए ठीक नहीं है।


उन्होंने कहा कि नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल द्वारा मनाली के रोहतांग, मढ़ी व सोलंग में लगाए गए विभिन्न प्रतिबंधों के मध्य पर्यटन व्यवसाइयों को काम करने में दिक्कते आ रही हैं तो पर्यटकों को भी कई परिशानियों से दो-चार होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि सभी ट्रेवल एजेंट जो कि होटल बुकिंग, टैक्सी बुकिंग, टूर पैकेज से लेकर ट्रेकिंग व साहसिक गतिविधियों की बुकिंग करवा रहे हैं के लिए पर्यटकों के आतिथ्य-सत्कार को लेकर वर्कशॉप का आयोजन किया जाएगा। शर्मा ने बताया कि ग्रीन ट्रिब्यूनल के आदेशों की अनुपालना करना सबके लिए आवश्यक है। इन आदेशों व खुशनुमा पर्टयन के मध्य सामंजस्य बिठाने की ज़रूरत है। उन्होंने सभी ट्रेवल एजेंट्स को हिदायत देते हुए कहा कि पर्यटकों के साथ मेहमानों जैसा व्यवहार करें और यदि किसी ट्रेवेल एजेंट की कोई शिकायत आती है तो उसे गंभीरता से लिया जाएगा।


उन्होंने साहसिक गतिविधियां चलाने वालों, मुख्यत ट्रेकिंग टूर चलाने वाले ऑपरेटर्स से अपील की है कि ऐसे टूर पर जाने से पहले अपनी एजेंसी, ट्रेकर्स, ट्रेकिंग रूट, जाने व वापिस आने संबंधी सारी जानकारी पर्यटन विभाग, पुलिस या प्रशासन की ईमेल आईडी पर भेजना सुनिश्चित करें ताकि आपातकालीन स्थिति में मदद करना आसान हो। मीटिंग में ये सुनिश्चित किया गया कि कोई भी व्यक्ति बिना पंजीकरण के काम ना करे और यदि ऐसा कोई व्यक्ति पाया जाता है तो पर्यटन विभाग से उसकी शिकायत की जाए ताकि पर्यटकों की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ ना हो। अनिल शर्मा ने इस मौके पर सब से आह्वान किया कि अधिक से अधिक पंजीकृत ट्रेवेल एजेंट इस एसोसिएशन के साथ भी अपना पंजीकरण करवा लें। एसोसिएशन की नई कार्यकारिणी चुनने हेतु आगामी चुनाव 18 अप्रैल को होंगे और चुनाव में मात्र पंजीकृत एजेंसियों के प्रतिनिधि ही भाग ले पाएंगे।

VIDEO POST

View All Videos
X