Wednesday, July 24, 2024
BREAKING
सरकारी स्‍कूलों में छात्रों की भारी गिरावट पर सीएम चिंतित, स्कूल होंगे मर्ज मुख्यमंत्री ने केंद्रीय बजट को निराशाजनक और किसान विरोधी बताया सभी वर्गों के सशक्तिकरण का साधन है केंद्रीय बजट: जयराम ठाकुर नादौन में 100 पदों के लिए इंटरव्‍यू 24 को, वेतन 16157 रुपये परिवहन निगम में 357 कंडक्टरों को जल्द मिलेगी नियुक्ति: मुकेश अग्निहोत्री सीएम ने अम्रुत योजना में पहाड़ी राज्यों के लिए मापदंडों में ढील देने का आग्रह किया कांगड़ा में एटीएम चोरी के प्रयास में कोहाला के तीन युवक दबोचे हिमकेयर योजना के तहत की गई 100 करोड़ रुपये की प्रतिपूर्ति: संजय अवस्‍थी जयराम झूठे, 2023-2024 में शगुन योजना के तहत 4,662 बेटियों को दिए 14.45 करोड़: शांडिल ऊना और हमीरपुर में नौकरी का मौका, कंपनियां भरेंगी विभिन्‍न ट्रेडों के कई पद
 

रोहतांग के लिए आॅनलाइन परमिट शुरू

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Monday, May 16, 2016 21:34 PM IST
तीन दिन पहले बुकिंग कर सकते हैं पर्यटक
 
 
18 मई से मढ़ी तक जा सकेंगे सैलानी
 
 

कुल्लू,16 मई। राष्ट्रीय हरित अधिकरण के आदेशों के बाद इस पर्यटन सीजन में रोहतांग की ओर जाने वाली गाड़ियों के लिए आॅनलाइन परमिट की योजना आरंभ कर दी गई है। उपायुक्त हंसराज चैहान ने सोमवार को आॅनलाइन परमिट बुकिंग का शुभारंभ किया। उपायुक्त ने बताया कि 18 मई से पर्यटकांे को मढ़ी तक जाने की अनुमति दी जाएगी और शीघ्र ही रोहतांग दर्रे पर उचित व्यवस्था करने के बाद इसे भी पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि परमिट की बुकिंग चार वैबसाइटों  hpkullu.nic.in या hpkullu.gov.in या hया admis.hp.nic.in/ngtkullu पर उपलब्ध करवा दी गई है। आॅनलाइन बुकिंग में इंटरनेट बैकिंग डेबिट कार्ड  और क्रेडिट कार्ड आदि के माध्यम से पेमेंट की सुविधा दी गई है। पर्यटक तीन दिन पहले परमिट की बुकिंग कर सकते हैं। उपायुक्त ने बताया कि परमिट के लिए पांच सौ रुपये शुल्क निर्धारित किया गया है। इसके अतिरिक्त 50 रुपये की कंजैशन फीस भी अदा करनी होगी। परमिट की प्रिंट काॅपी की हर बैरियर पर जांच की जाएगी।

 
 
इस अवसर पर उपायुक्त ने रोहतांग के मुद्दे पर एडीएम विनय सिंह ठाकुर, एएसपी निश्चिंत सिंह नेगी, जिला पर्यटन विकास अधिकारी रतन गौतम, एसडीएम मनाली ज्योति राणा, डीएसपी पुनीत रघु और विभिन्न बैरियरों के प्रभारी, पुलिस कर्मियों के साथ बैठक भी की और उन्हें एनजीटी के आदेशों की अनुपालना के संबंध में आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए। उन्होंने बताया कि रोहतांग व इसके आसपास के पर्यटक स्थलों पर केवल परमिट धारकों को ही पर्यटन से संबंधित गतिविधियां व कारोबार करने की अनुमति दी जाएगी। यदि किसी के पास परमिट नहीं होगा तो उन्हें किसी भी प्रकार का कारोबार करने की अनुमति नहीं होगी।
 
पर्यटन व्यवसासियों को जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए परमिट कार्ड को दर्शाना अनिवार्य होगा। उन्होंने कहा कि एनजीटी के आदेशों की अवहेलना करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी तथा लाइसेंस भी रद्द किया जाएगा। उन्होंने सभी पर्यटन व्यवसासियों से आग्रह किया कि एनजीटी द्वारा निर्धारित की गई गतिविधियों को ही चलाएं। उन्होंने इस क्षेत्र में जाने वाले लोगों से क्षेत्र में स्वच्छता बनाए रखने की अपील की तथा कूड़ा-कर्कट को निर्धारित स्थलों पर ही डालें। उपायुक्त ने पर्यटन व्यावसाय से जुड़े लोगों से अपील की है कि वे तमाम प्रक्रियाओं व औपचारिकताओं को लिए पर्यटन कार्यालय तथा एसडीएम मनाली के कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं। गौरतलब है कि एनजीटी ने अब रोहतांग के लिए प्रतिदिन पैट्रोल की 800 और डीजल की 400 गाड़ियां ले जाने की अनुमति दी है।

VIDEO POST

View All Videos
X