Wednesday, January 19, 2022
BREAKING
चंबा-शिमला के विधायकों ने रखी अपने क्षेत्र के विकास की प्राथमिकताएं बेरोजगार वेटेरिनरी फार्मासिस्टों ने सीएम को भेजा ज्ञापन, नई पंचायतों में मिले नियुक्‍ति   पीडब्‍ल्‍यूडी बेलदार हादसे का शिकार, 4 की मौत, 3 घायल जिला कांगड़ा के विधायकों ने रखी प्राथमिकता, सीएम ने डीपीआर समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश दिए सराह के टॉंग लेन को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया हमीरपुर में रैपिड एंटीजन टैस्ट में 168 कोरोना पॉजिटिव डॉ. सैजल बोले, नई शिक्षा नीति युवाओं के कौशल विकास में कारगर मुख्यमंत्री धर्मशाला रोपवे के अलावा करोड़ों की योजनाओं के उद्घाटन/शिलान्यास करेंगे ऊना में मिले दो ओमिक्रॉन संक्रमित, विदेश से लौटे थे दोनों बिलासपुर एम्‍स के निकट पावर हाउस में हादसा, दो मजदूर दबे एक की मौत

1.54 लाख किसान परिवारों ने प्राकृतिक खेती अपनाई: जय राम ठाकुर

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Thursday, December 16, 2021 17:55 PM IST
1.54 लाख किसान परिवारों ने प्राकृतिक खेती अपनाई: जय राम ठाकुर

शिमला, 16 दिसंबर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज गुजरात के सरदार पटेल सभागार, अमूल, आन्नद में प्राकृतिक खेती विषय पर आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन को नई दिल्ली से वर्चुअल माध्यम से सम्बोधित किया। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने भी शिमला से इस सम्मेलन में वर्चुअल माध्यम से भाग लिया।

 

प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर किसानों का आहवान किया कि वे अपनी कृषि पैदावार को बढ़ाने तथा अपनी आय को दोगुना करने के लिए प्राकृतिक खेती को अपनाएं। उन्होंने कहा कि यद्यपि देश की हरितक्रान्ति में उर्वरकों की महत्वपूर्ण भूमिका को नकारा नहीं जा सकता, परन्तु कीटनाशकों तथा आयातीत उर्वरकों से स्वास्थ्य को हो रहे नुकसान एवं बढ़ती लागत के लिए यह अनिर्वाय है कि किसान कोई वैकल्पिक तकनीक अपनाए।

 

इसके उपरान्त, पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत से मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने वर्ष 2018 में अपने पहले ही बजट में प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देने के लिए प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना आरम्भ की तथा इस योजना के लिए 25 करोड़ रुपये का प्रावधान किया है।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में गत लगभग चार वर्षों में प्रदेश में लगभग  1.54 लाख किसान परिवारों ने 9200 हेक्टेयर भूमि पर प्राकृतिक खेती को अपनाया है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष इस योजना के तहत 1.50 लाख किसानों को जोड़कर 12000 हेक्टेयर भूमि को प्राकृतिक खेती के अन्तर्गत लाने का लक्ष्य रखा गया है।

 

जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश सरकार प्राकृतिक खेती की आधार भारतीय नस्ल की गाय की खरीद पर 50 प्रतिशत अनुदान, अधिकतम 25000 तक तथा पांच हजार रुपये यातायात शुल्क के तौर पर दे रही है। उन्होंने कहा कि प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के अन्तर्गत विगत साढ़े तीन वर्षों में लगभग 46.18 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। 

पी.एम. कुसुम योजना के लिए नामित सरकारी विभाग में ही करें आवेदन, ठगी से बचें

अनुदान पर मिल रहे सौर पंप : पी.एम. कुसुम योजना के लिए नामित सरकारी विभाग में ही करें आवेदन, ठगी से बचें

कुटलैहड़ की बंजर धरती उगलने लगी सोना

शिवा योजना से लहलहाई फसल : कुटलैहड़ की बंजर धरती उगलने लगी सोना

बजट सत्र में सरकार लाएगी चाय नीति: वीरेन्द्र कंवर

स्वर्ण जयंती चाय मेला : बजट सत्र में सरकार लाएगी चाय नीति: वीरेन्द्र कंवर

मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना से 4669 हेक्टेयर बंजर भूमि में बहार

175 करोड़ से 5535 किसान लाभान्वित : मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना से 4669 हेक्टेयर बंजर भूमि में बहार

कृषकों को प्रशिक्षित कर नई तकनीक अपनाने को प्रेरित करें:सीएम

बागवानी एवं वानिकी विवि का स्थापना दिवस : कृषकों को प्रशिक्षित कर नई तकनीक अपनाने को प्रेरित करें:सीएम

राज्यपाल ने प्राकृतिक खेती के उत्पादों की सर्टिफिकेशन पर बल दिया

ऊना दौरा   : राज्यपाल ने प्राकृतिक खेती के उत्पादों की सर्टिफिकेशन पर बल दिया

रोजगार मांगने वाले नहीं देने वाले बन रहे युवा:राजेंद्र गर्ग

एचपी शिवा योजना : रोजगार मांगने वाले नहीं देने वाले बन रहे युवा:राजेंद्र गर्ग

मुश्ताक गुज्जर ने अंब में उगाए ड्रैगन फ्रूट के पौधे, डेढ़ क्विंटल पैदावार

अग्रणी किसान : मुश्ताक गुज्जर ने अंब में उगाए ड्रैगन फ्रूट के पौधे, डेढ़ क्विंटल पैदावार

VIDEO POST

View All Videos