Wednesday, January 19, 2022
BREAKING
चंबा-शिमला के विधायकों ने रखी अपने क्षेत्र के विकास की प्राथमिकताएं बेरोजगार वेटेरिनरी फार्मासिस्टों ने सीएम को भेजा ज्ञापन, नई पंचायतों में मिले नियुक्‍ति   पीडब्‍ल्‍यूडी बेलदार हादसे का शिकार, 4 की मौत, 3 घायल जिला कांगड़ा के विधायकों ने रखी प्राथमिकता, सीएम ने डीपीआर समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश दिए सराह के टॉंग लेन को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया हमीरपुर में रैपिड एंटीजन टैस्ट में 168 कोरोना पॉजिटिव डॉ. सैजल बोले, नई शिक्षा नीति युवाओं के कौशल विकास में कारगर मुख्यमंत्री धर्मशाला रोपवे के अलावा करोड़ों की योजनाओं के उद्घाटन/शिलान्यास करेंगे ऊना में मिले दो ओमिक्रॉन संक्रमित, विदेश से लौटे थे दोनों बिलासपुर एम्‍स के निकट पावर हाउस में हादसा, दो मजदूर दबे एक की मौत

गोविंदसागर झील में शुरू हुई राष्‍ट्रीय कायकिंग एंड कनोइंग प्रतियोगिता

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Sunday, October 24, 2021 19:09 PM IST
गोविंदसागर झील में शुरू हुई राष्‍ट्रीय कायकिंग एंड कनोइंग प्रतियोगिता

बिलासपुर, 24 अक्‍तूबर। हिमाचल प्रदेश के जिला बिलासपुर के ऐतिहासिक लुहणु मैदान के नजदीक गोंविदसागर झील में चार दिवसीय, 31वीं राष्ट्रीय कायकिंग एव कनोइंग प्रतियोगिता 2021 का भव्य तरीके से आगाज हुआ। रविवार को बुंदाबांदी के बीच शुरू हुई इस प्रतियोगिता में पूरे देश के 26 राज्यों की टीमों के लगभग 650 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। प्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग ने प्रतियोगिता का शुभारंभ किया।

 

इस अवसर पर राजेंद्र गर्ग ने कहा कि बिलासपुर के लिए यह प्रतियोगिता मिलना सौभाग्य की बात है। इसके लिए कायकिंग व कनोइंग एसोसिएशन धन्यवाद की पात्र है। बिलासपुर का लुहणू मैदान व गोविंद सागर झील हमेशा ही खिलाड़ियो और पर्यटकों को आकर्षित करती है। यहां जल, थल और नभ सभी प्रकार की साहसिक खेलों के आयोजन की सम्भावनायें हैं और यही बिलासपुर की पहचान भी है। 

 

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा बिलासपुर को देश-दुनिया के पटल पर लाने के लिए लुहणू मैदान के साथ गोविंदसागर झील को खेलों के साथ-साथ पर्यटन को विकसित करने के भी प्रयास किये जा रहे हैं। इससे यहां के व्‍यावसायियों को व्यापार और युवाओं को रोजगार के अवसर भी प्राप्‍त होगें। उन्‍होंने कहा कि मुख्यामंत्री जय राम ठाकुर पर्यटन की दृष्टि से प्रदेश के हर क्षेत्र को विकसित करने के बारे विशेष तौर पर रूची ले रहें हैं। बिलासपुर में खिलाड़ियों की सुविधा के लिए मैदान के साथ छात्रावास और प्रशिक्षण की सुविधा उपलव्ध है।

 

उन्होने देश के 26 राज्यों से आये लगभग 650 खिलाड़ियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि प्रतियोगिता में भाग लेने के साथ साथ जिला के पर्यटन स्थलों का भी अवलोकन करें। उन्हाने कहा कि जिला बिलासपुर की ऐतिहासिक बंदला धार को भी साहसिक खेलों के केन्द्र के रूप में विकसित किया जा रहा है और इसके लिए प्रदेश सरकार कृतसंकल्प है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर कई स्थानों पर आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं। इसमें आजादी के दिवानों व अमर शहीदों को याद किया जा रहा है। हम सब के लिए यह बड़े गौरव की बात है कि हम प्रदेश का स्वर्ण ज्यंती वर्ष भी मना रहे हैं जिसमें प्रदेश के विकास के सफर को जानने का मौका भी मिल रहा है।

 

उन्होंने आल इड़िया कायकिंग व कनोइंग एसोसिएशन के अध्यक्ष एसएम हाश्मी के आग्रह करते हुए कहा कि वाटर स्‍पोर्ट्स ट्रेनिंग केंद्र को बिलासपुर में स्थापित किया जाता है तो इसके लिए सभी सुविधांए उपलब्‍ध करवाई जाएंगी। अखिल भारतीय कायकिंग व कनोइंग एसोसिएशन के अध्यक्ष एसएम हाश्मी ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर को राष्ट्र स्तरीय प्रतियोगिता का आयोजन सौंपने से यहां की जल क्रीड़ा गतिविधियों को बल मिलने के साथ खिलाड़ियों को प्रोत्साहन के साथ एशियन और ओलंपिक में भाग लेने के मौके भी मिलेंगें। उन्‍होंने कहा कि गोविंद सागर झील में जल क्रीड़ा प्रशिक्षण केन्द्र की अपार सम्भावना है।

 

इस अवसर पर प्रधान सचिव (राजस्व) एंव कायकिंग व कनोइंग एसोसिएशन के राज्य अध्यक्ष ओंकार शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार के सराहनीय व सार्थक प्रयासों से प्रदेश में राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं को करवाने, खेलों को आगे बढ़ाने का मौका मिल रहा है। उन्‍होंने कहा कि 14 वर्षों के बाद बिलासपुर में कायकिंग व कनोइंग की राष्ट्रीय प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। साल 2019 में पिरड़ी, जिला कुल्लू में राफटिंग चैंपियनशिप भी आयोजित की गई थी। इसके अतिरिक्त नवम्बर माह में तलेरू, जिला चंबा में राष्ट्रीय ड्रैगन वोट चैंपियनशिप आयोजित की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार की प्रतियोगिताओं से प्रदेश के खिलाड़ियों को  प्रोत्साहन के साथ आगे बढ़ने के मौके मिल रहे हैं।

 

देश भर से आए खिलाड़ियों के मनोरजंन के लिए सास्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया। इस दौरान जिला मंडी के प्रमुख लोकनृत्य लुड्डी की प्रस्तुती ने खूब समा बांधा। इस मौके पर नौकाओं द्वारा भव्य मार्चपास्ट का प्रर्दशन कर रोमाचिंत किया। इस अवसर पर उपायुक्त एवमं आयोजन समिति के अध्यक्ष और राज्य कायकिंग व कनोइंग एसोसिएशन के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पंकज राय, अखिल भारतीय कायकिंग व कनोइंग एसोसिएशन प्रशांत कुश्वाह, इंडियन ओलपिंक के सदस्य बलबीर कुश्वाह, राज्य महासचिव पीएस गुलेरिया, तकनिकी शिक्षा निदेशक विवेक चंदेल, अतिरिक्त सहायक उपायुक्त तोरूल रविश, सहायक आयुक्त सिदार्थ आचार्य, एसडीएम सुभाष गौतम,  एसोसिएशन के जिला अध्यक्ष कमल गौतम, इशान अख्तर व एसोसिएशन के अनेक पदाधिकारियों  सहित सभी टीमों के टीम मनेजर, प्रशिक्षकों और अधिकारियों सहित लगभग 650 खिलाड़ी उपस्थित रहे।

 

 

आरक्षण खत्‍म किया जाए या फिर आर्थिक व शैक्षणिक आधार पर हो

युवा राजपूत संघ की मांग : आरक्षण खत्‍म किया जाए या फिर आर्थिक व शैक्षणिक आधार पर हो

श्री नैना देवी में रविवार को दुकानें बंद रखने पर रोष जताया

दुकानादार और श्रद्धालु परेशान : श्री नैना देवी में रविवार को दुकानें बंद रखने पर रोष जताया

बिलासपुर में सेना दिवस पर शहीदों को नमन, सैनिकों को दी शुभकामनाएं

कार्यक्रम आयोजित : बिलासपुर में सेना दिवस पर शहीदों को नमन, सैनिकों को दी शुभकामनाएं

मुख्यमंत्री ने बिलासपुर विस क्षेत्र में 210 करोड़ लागत की 26 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास किए

कई घोषणाएं भी कीं : मुख्यमंत्री ने बिलासपुर विस क्षेत्र में 210 करोड़ लागत की 26 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास किए

घुमारवीं में राजेंद्र गर्ग ने किया 15-18 वर्ष के बच्चों के वैक्सिनेशन का शुभारंभ

टीकाकरण अभियान : घुमारवीं में राजेंद्र गर्ग ने किया 15-18 वर्ष के बच्चों के वैक्सिनेशन का शुभारंभ

मरहाणा पंचायत के गांवों में फिर लौटा तेंदुए का आतंक

ग्रामीण खौफजदा : मरहाणा पंचायत के गांवों में फिर लौटा तेंदुए का आतंक

सांसद खेल महाकुंभ जनवरी से पूरे प्रदेश में होगा शुरू: राकेश पठानिया

बिलासपुर में मुकाबले शुरू : सांसद खेल महाकुंभ जनवरी से पूरे प्रदेश में होगा शुरू: राकेश पठानिया

दिन-रात सीमा पर खड़े बहादूर सैनिकों की वजह से चैन की नींद सोते हैं हम: धर्माणी

भारत-पाक युद्ध की 50वीं वर्षगांठ : दिन-रात सीमा पर खड़े बहादूर सैनिकों की वजह से चैन की नींद सोते हैं हम: धर्माणी

VIDEO POST

View All Videos