Tuesday, November 30, 2021
BREAKING
पहली दिसंबर से बारिश और बर्फबारी के आसार हिमाचल को देश का सबसे पसंदीदा पर्यटन गंतव्य बनाने को कृतसंकल्पःसीएम पुलिस कर्मियों के अनुबंध का मामला सीएम के समक्ष से उठाया: सत्ती निम्‍न शिवालिक पर्वत श्रृंखला की जैव-विविधता के दस्तावेजीकरण की जरूरत मुख्यमंत्री ने धर्मपुर में 381 करोड़ के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए रेलवे ट्रैक पर जा रहा कॉलेज छात्र ट्रेन की चपेट में आया, मौत बिलासपुर का एमवीआई, मंडी के 2 एजेंटों समेत रिश्‍वत लेने के आरोप में धरा बरमाणा में चिट्टे समेत दबोचे कार सवार दो युवक हिमाचल में फिल्म उद्योग को आकर्षित करने के लिए प्रयासरतः मुख्यमंत्री राज्यपाल ने मां चिंतपूर्णी मंदिर में टेका माथा, आरोग्य भारती के अधिवेशन में शिरकत

दिव्यांगजनों को सहानुभूति नहीं अवसर की जरूरतःराज्यपाल

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Monday, November 15, 2021 20:07 PM IST
दिव्यांगजनों को सहानुभूति नहीं अवसर की जरूरतःराज्यपाल

शिमला,15 नवंबर। राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि दिव्यांगजनों को सहानुभूति की जरूरत नहीं बल्कि उन्हें अवसर देने की आवश्यकता है। उनके पास अलग प्रकार की प्रतिभा है। वह आज हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय एवं उमंग फाउंडेशन शिमला द्वारा हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय में आयोजित दिव्यांगजनों की प्रतिभा का सम्मान कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने विश्वविद्यालय में छात्रावासों में रह रहे दिव्यांग विद्यार्थियों को हॉस्टल फीस माफ करने के निर्देश दिए।

 

उन्होंने कहा कि दिव्यांगजन भी समाज का अहम हिस्सा हैं और उनके पास विशेष प्रतिभा है। इनमें से कई अपने महत्वपूर्ण योगदान से समाज का मार्गदर्शन कर रहे हैं। इसलिए हमें उनके प्रति अपने दृष्टिकोण को बदलने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिव्यांगजनों के लिए कंप्यूटर, लैपटॉप व अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाकर यह पहल की है।

 

राज्यपाल ने उमंग फाउंडेशन द्वारा इस दिशा में किए जा रहे कार्यों की सराहना की तथा कहा कि उमंग से प्रेरणा लेकर अन्य सामाजिक संगठनों को आगे आना चाहिए। उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन की भी दिव्यांगजनों को दी जा रही सुविधाओं के लिए सराहना की तथा कहा कि इस दिशा में और कार्य किया जाना चाहिए। उन्होंने विश्वविद्यालय सभागार में रैंप निर्मित करने के भी निर्देश दिए।

 

इस अवसर पर राज्यपाल ने दिव्यांग प्रतिभाओं को सम्मानित भी किया। कार्यक्रम के अध्यक्ष एवं उप-कुलपति प्रो. सिकन्दर कुमार ने राज्यपाल का स्वागत करते हुए कहा हमें संवेदनशील होकर समाज के कमज़ोर वर्गों के लिये कार्य करने की आवश्यकता है। विश्वविद्यालय में लीगल सेल गठित कर न्याय देने की कोशिश की गई है। उन्होंने कहा कि दिव्यांग विद्यार्थियों के सर्वांगीण विकास के लिये विश्वविद्यालय कार्य कर रहा है। उन्होंने आम विद्यार्थियों से शैक्षणिक वातावरण को बनाये रखने की अपील की तथा आश्वासन दिया कि विद्यार्थियों की अगर कोई समस्या होगी तो उन्हें बातचीत से हल किया जाएगा।

 

कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि एवं यू.जी.सी. सदस्य प्रो. नागेश ठाकुर ने कहा कि तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद दिव्यांगजनों ने समाज में मिसाल कायम की है। उन्हें सुविधा देना हम सब का कर्तव्य है ताकि वह आगे बढ़ सकें। उन्होंने उमंग फाउंडेशन के प्रयासों की सराहना की।

  

इससे पूर्व उमंग फाउंडेशन के अध्यक्ष प्रो. अजय श्रीवास्तव ने मुख्यातिथि का स्वागत किया। उन्होंने फाउंडेशन की गतिविधियों की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने राज्यपाल का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह पहला अवसर है जब राज्यपाल दिव्यांगजनों के कार्यक्रम में आए हैं जो उनकी संवेदनशीलता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश विश्वविद्यालय देश का शायद पहला विश्वविद्यालय होगा जो विशेष रूप से सक्षम व्यक्तियों के अनुकूल है और ऐसे विद्यार्थियों को आगे बढ़ने के अवसर प्रदान कर रहा है। इस अवसर पर दृष्टिबाधित दिव्यांगजनों ने अपने विचार भी साझा किए तथा गायन के माध्यम से अपनी प्रतिभा को प्रदर्शित किया।

 

नाहन कॉलेज में एबीवीपी और एसएफआई के कार्यकर्ताओं में खूनी झड़प

छात्र राजनीति : नाहन कॉलेज में एबीवीपी और एसएफआई के कार्यकर्ताओं में खूनी झड़प

आइटीआई की रिक्त सीटों के लिए 18 से 22 अक्तूबर तक होगा स्पॉट राउंड

एडमिशन : आइटीआई की रिक्त सीटों के लिए 18 से 22 अक्तूबर तक होगा स्पॉट राउंड

सीयू के लिए देहरा में निशानदेही 30 तक होगी पूरी, जदरांगल में 25 को आएगी जियोलोजिकल सर्वे की टीम: डीसी

केंद्रीय विवि कैंपस निर्माण : सीयू के लिए देहरा में निशानदेही 30 तक होगी पूरी, जदरांगल में 25 को आएगी जियोलोजिकल सर्वे की टीम: डीसी

शिक्षा मंत्री ने किया सोलन कॉलेज का निरीक्षण,प्रशासन, प्राध्यापकों एवं छात्रों की मांगें भी सुनीं

आवश्यक दिशा-निर्देश जारी : शिक्षा मंत्री ने किया सोलन कॉलेज का निरीक्षण,प्रशासन, प्राध्यापकों एवं छात्रों की मांगें भी सुनीं

धर्मशाला कॉलेज में बीबीए, बीसीए, बीकॉम, बीवॉक, बायोटेक प्रथम वर्ष की मेरिट सूची जारी

कैंपस न्यूज : धर्मशाला कॉलेज में बीबीए, बीसीए, बीकॉम, बीवॉक, बायोटेक प्रथम वर्ष की मेरिट सूची जारी

एनएसयूआई ने छात्र नेताओं पर लगाया प्रतिबंध वापस लेने की मांग की, राज्‍यपाल को भेजे ज्ञापन

छात्र राजनीति : एनएसयूआई ने छात्र नेताओं पर लगाया प्रतिबंध वापस लेने की मांग की, राज्‍यपाल को भेजे ज्ञापन

एबीवीपी और एसएफआई के छात्रों में जमकर चले लात-घूंसे

एचपीयू कैंपस : एबीवीपी और एसएफआई के छात्रों में जमकर चले लात-घूंसे

VIDEO POST

View All Videos