Friday, May 20, 2022
BREAKING
फील्‍ड एग्जीक्यूटिव ऑफिसर के 175 पदों के लिए इंटरव्यू 24 को ऊना में सीएम ने रोहड़ू के समरकोट व धमवाड़ी को दी उप-तहसील, सीएच रोहड़ू को सीटी स्कैन धर्मशाला से भागसूनाग जा रही निजी बस पलटी, कई घायल फंदे से लटकी मिली कॉलेज छात्रा, युवक की संदिग्‍ध मौत, महिला का शव लेने से किया इनकार धर्मशाला जेल में बंद विचाराधिन कैदी पठानकोट में पुलिस को चकमा देकर फरार क्षमता के समग्र विकास के लिए प्रत्येक बच्चे को मिलें समान अवसर:राज्यपाल अवगुणों को दूर करके सद्गुण अपनायें: सत्गुरु माता सुदीक्षा जी महाराज वर्धमान यार्न होशियारपुर में 50 पदों के लिए कैंपस इंटरव्यू 23 को तीसा में मुख्यमंत्री ने हमीरपुर मेडिकल कॉलेज में स्थापित सीटी स्कैन मशीन का लोकार्पण किया फ्री फायर गेम से बना दोस्‍त देसी कट्टा लेकर आ पहुंचा लड़की के घर, नाबालिग से दुष्‍कर्म  
april, 22

राज्यपाल ने 31वीं सब जूनियर खो-खो प्रतियोगिता का किया शुभारंभ

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Saturday, November 27, 2021 17:36 PM IST
राज्यपाल ने 31वीं सब जूनियर खो-खो प्रतियोगिता का किया शुभारंभ

ऊना, 27 नवंबर। हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने आज ऊना के इंदिरा स्टेडियम में 31वीं सब-जूनियर खो-खो प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। उन्होंने कहा कि सभी खिलाड़ी खेल भावना बनाए रखें तथा हार से हतोत्साहित होने की आवश्यकता नहीं है। आवश्यक है कि खिलाड़ी प्रतियोगिता में तन व मन लगाकर खेलें।

 

उन्होंने कहा कि खो-खो मिट्टी से जुड़ा खेल है, जिसे बढ़ावा दिए जाने की आवश्यकता है। राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने प्रतियोगिता के आयोजन के लिए हिमाचल प्रदेश खो-खो संघ को बधाई देते हुए कहा कि प्रतिस्पर्धा में देश भर की 27 राज्यों की टीमें भाग ले रही हैं।

 

राज्यपाल ने कहा कि खेल शारीरिक व मानसिक क्षमताओं को बढ़ाते हैं। युवाओं को खेल प्रतिस्पर्धा में भाग लेकर अनुशासन सीखना चाहिए क्योंकि खेल के मैदान के अनुभव जीवन में आगे बढ़ने का सबक बनते हैं। खेल प्रतियोगिता में भाग लेने से बच्चों की प्रतिभा को निखरने का अवसर मिलता है।

 

कार्यक्रम के दौरान राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने टोक्यो पैरा-ओलंपिक में रजत पदक जीतने वाले निषाद कुमार को सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि निषाद ने मेडल जीतकर पूरे देश का मान बढ़ाया है और आने वाली पीढ़ी उनसे प्रेरणा लेकर खेलों के प्रति प्रोत्साहित होगी।

 

इससे पूर्व कार्यक्रम में उपस्थित छठे राज्य वित्तायोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि हिमाचल प्रदेश एक शांत राज्य है, जो अपने अतिथि सत्कार के लिए प्रसिद्ध है तथा यहां के निवासी मृदुभाषी एवं मिलनसार हैं। उन्होंने कहा कि ऊना की धरती ने अनेकों महान खिलाड़ी दिए हैं। हॉकी में पद्मश्री चरणजीत सिंह व दीपक ठाकुर ऊना से ही हैं। अभी हाल ही में टोक्यो पैरा-ओलंपिक में निषाद कुमार ने भी रजत पदक जीतकर देश का मान बढ़ाया है।

 

उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश को वीरभूमि भी कहा जाता है क्योंकि देश का पहला परमवीर चक्र हिमाचल प्रदेश के वीर सपूत मेजर सोमनाथ शर्मा ने जीता था।

 

इससे पूर्व हिमाचल प्रदेश खो-खो संघ के चेयरमैन राकेश ठाकुर ने राज्यपाल तथा सभी अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, मत्स्य तथा पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर, एचपीएसआईडीसी उपाध्यक्ष प्रो. राम कुमार, राज्य अध्यक्ष अभिषेक ठाकुर, खो-खो फेडरेशन इंडिया के महासचिव एम.एस. त्यागी, सहित विभिन्न खो-खो संघों के पदाधिकारी, जिला परिषद अध्यक्ष नीलम कुमारी, उपाध्यक्ष कृष्ण पाल शर्मा, उपायुक्त राघव शर्मा तथा एस.पी. अर्जित सेन ठाकुर सहित अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।

 

प्रतियोगिता में 612 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। लड़कों के वर्ग में पहला मैच गोवा व छत्तीसगढ़ की टीम के बीच खेला गया, जबकि लड़कियों के वर्ग में पहला मुकाबला कोल्हापुर तथा केरल के बीच हुआ। राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने खिलाडि़यों का उत्साहवर्द्धन किया और उन्हें मैच के लिए शुभकामनाएं दी।

 

जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में ज्ञानेश्वरी को रजत, रितिका को कांस्य

भारोत्‍तोलन : जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में ज्ञानेश्वरी को रजत, रितिका को कांस्य

मुंबई के खिलाफ नौ अप्रैल के मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे मैक्सवेल: हेसन

राहत : मुंबई के खिलाफ नौ अप्रैल के मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे मैक्सवेल: हेसन

पेरिस ओलंपिक में पुरूष मुक्केबाजी स्पर्धायें कम, भारोत्तोलन और निशानेबाजी में भी बदलाव

बदलाव : पेरिस ओलंपिक में पुरूष मुक्केबाजी स्पर्धायें कम, भारोत्तोलन और निशानेबाजी में भी बदलाव

बोपन्ना और सानिया मियामी ओपन से बाहर

चुनौती समाप्‍त : बोपन्ना और सानिया मियामी ओपन से बाहर

एक राज्य, एक खेल योजना पर विचार कर रही सरकार: प्रमाणिक

शतरंज ओलंपियाड 2022 भारत में : एक राज्य, एक खेल योजना पर विचार कर रही सरकार: प्रमाणिक

धर्मशाला में भारत-श्रीलंका दूसरे टी-20 मुकाबले को तैयार, बारिश के डर से चला रहा पूजा-पाठ

क्रिकेट का रोमांच   : धर्मशाला में भारत-श्रीलंका दूसरे टी-20 मुकाबले को तैयार, बारिश के डर से चला रहा पूजा-पाठ

धर्मशाला में लौटा क्रिकेट का रोमांच, भारत और श्रीलंका की टीमें पहुंचीं

टी-20 मुकाबले : धर्मशाला में लौटा क्रिकेट का रोमांच, भारत और श्रीलंका की टीमें पहुंचीं

किक्रेट प्रेमियों के लिए खुशखबरी, भारत-श्रीलंका टी-20 मैचों में बैठेंगे 50 फीसदी दर्शक

टिकटों की बिक्री 20 से   : किक्रेट प्रेमियों के लिए खुशखबरी, भारत-श्रीलंका टी-20 मैचों में बैठेंगे 50 फीसदी दर्शक

VIDEO POST

View All Videos
X