Wednesday, January 19, 2022
BREAKING
चंबा-शिमला के विधायकों ने रखी अपने क्षेत्र के विकास की प्राथमिकताएं बेरोजगार वेटेरिनरी फार्मासिस्टों ने सीएम को भेजा ज्ञापन, नई पंचायतों में मिले नियुक्‍ति   पीडब्‍ल्‍यूडी बेलदार हादसे का शिकार, 4 की मौत, 3 घायल जिला कांगड़ा के विधायकों ने रखी प्राथमिकता, सीएम ने डीपीआर समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश दिए सराह के टॉंग लेन को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया हमीरपुर में रैपिड एंटीजन टैस्ट में 168 कोरोना पॉजिटिव डॉ. सैजल बोले, नई शिक्षा नीति युवाओं के कौशल विकास में कारगर मुख्यमंत्री धर्मशाला रोपवे के अलावा करोड़ों की योजनाओं के उद्घाटन/शिलान्यास करेंगे ऊना में मिले दो ओमिक्रॉन संक्रमित, विदेश से लौटे थे दोनों बिलासपुर एम्‍स के निकट पावर हाउस में हादसा, दो मजदूर दबे एक की मौत

राज्यपाल ने प्राकृतिक खेती के उत्पादों की सर्टिफिकेशन पर बल दिया

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Saturday, November 27, 2021 18:07 PM IST
राज्यपाल ने प्राकृतिक खेती के उत्पादों की सर्टिफिकेशन पर बल दिया

ऊना, 27 नवंबर। हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ आर्लेकर ने कहा कि प्राकृतिक खेती अपनाने से फसल की गुणवत्ता में सुधार हुआ है और कृषि लागत घटने के साथ ही उत्पादन में भी वृद्धि दर्ज की गई है। उन्होंने प्राकृतिक खेती के उत्पादों की सर्टिफिकेशन पर बल देते हुए कहा कि इससे किसानों को लाभ मिलेगा।

 

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किसानों की आय दोगुना करने का संकल्प लिया है तथा हिमाचल प्रदेश में भी इस दिशा में सार्थक प्रयास हो रहे हैं। ऊना जिला के अपने तीन दिवसीय प्रवास के पहले दिन राज्यपाल ने आज प्रदेश सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों के साथ चर्चा के दौरान यह बात कही।

 

उन्होंने प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के लाभार्थी लोअर बसाल निवासी जोगिंदर पाल से उनके खेत में जाकर अनुभव सुने। गलुआ में प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की लाभार्थी सुख देवी का घर भी देखा और उनसे बात-चीत की। इसके उपरांत अप्पर बसाल में हिमकेयर योजना की लाभार्थी कृष्णा देवी से तथा प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लाभार्थी अप्पर नारी निवासी सुरेंद्र कुमार से भी मुलाकात की।

 

लाभार्थी जोगिंदर पाल ने बताया कि उन्हें प्राकृतिक खेती खुशहाल किसान योजना के तहत 57 हजार रुपए की आर्थिक मदद दी गई है तथा उन्होंने देसी गाय के गोबर व गौमूत्र का उपयोग कर रसायन मुक्त खेती को अपनाया है। सुख देवी ने बताया कि उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) के तहत 1.67 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की गई है। 75 वर्षीय कृष्णा देवी ने अपने अनुभव साझा करते हुए बताया कि उन्हें कूल्हे में चोट लगी थी तथा 25 हजार रुपए से उनका उपचार किया गया, जिसका पूरा व्यय प्रदेश सरकार ने हिमकेयर योजना के तहत वहन किया, जिसके लिए वह मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की आभारी हैं। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लाभार्थी अप्पर नारी निवासी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि योजना के तहत उन्हें मकान बनाने के लिए 1.30 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की गई है।

 

इस अवसर पर ग्रामीण विकास, पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर, नगर परिषद ऊना की अध्यक्ष पुष्पा देवी, उपायुक्त राघव शर्मा व एसपी अर्जित सेन ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।     

 

पी.एम. कुसुम योजना के लिए नामित सरकारी विभाग में ही करें आवेदन, ठगी से बचें

अनुदान पर मिल रहे सौर पंप : पी.एम. कुसुम योजना के लिए नामित सरकारी विभाग में ही करें आवेदन, ठगी से बचें

कुटलैहड़ की बंजर धरती उगलने लगी सोना

शिवा योजना से लहलहाई फसल : कुटलैहड़ की बंजर धरती उगलने लगी सोना

1.54 लाख किसान परिवारों ने प्राकृतिक खेती अपनाई: जय राम ठाकुर

राष्ट्रीय सम्मेलन : 1.54 लाख किसान परिवारों ने प्राकृतिक खेती अपनाई: जय राम ठाकुर

बजट सत्र में सरकार लाएगी चाय नीति: वीरेन्द्र कंवर

स्वर्ण जयंती चाय मेला : बजट सत्र में सरकार लाएगी चाय नीति: वीरेन्द्र कंवर

मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना से 4669 हेक्टेयर बंजर भूमि में बहार

175 करोड़ से 5535 किसान लाभान्वित : मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना से 4669 हेक्टेयर बंजर भूमि में बहार

कृषकों को प्रशिक्षित कर नई तकनीक अपनाने को प्रेरित करें:सीएम

बागवानी एवं वानिकी विवि का स्थापना दिवस : कृषकों को प्रशिक्षित कर नई तकनीक अपनाने को प्रेरित करें:सीएम

रोजगार मांगने वाले नहीं देने वाले बन रहे युवा:राजेंद्र गर्ग

एचपी शिवा योजना : रोजगार मांगने वाले नहीं देने वाले बन रहे युवा:राजेंद्र गर्ग

मुश्ताक गुज्जर ने अंब में उगाए ड्रैगन फ्रूट के पौधे, डेढ़ क्विंटल पैदावार

अग्रणी किसान : मुश्ताक गुज्जर ने अंब में उगाए ड्रैगन फ्रूट के पौधे, डेढ़ क्विंटल पैदावार

VIDEO POST

View All Videos