Friday, October 22, 2021
BREAKING
हिमाचलियों को विदेशी रहन सहन समझने में मदद करेगी हिमाचली प्रवासी ग्लोबल एसोसिएशन  डीसी ने हमीरपुर अस्पताल में किया दो अत्याधुनिक मशीनों का लोकार्पण मां के पास खेल रही बच्ची को छीन ले गई मौत, टैंक में मिला शव न्यायमूर्ति सुरेश्वर ठाकुर की गरिमापूर्ण विदाई शादी से लौटते समय बारात की कार पेड़ से टकराई, दो युवकों की मौत, 3 घायल बहुतकनीकी संस्थान चंबा में दी एंटी रैगिंग एक्‍ट की जानकारी उपचुनावों में कांग्रेस का मुकाबला आजाद प्रत्‍याशियों से, भाजपा तीसरे नंबर पर: डॉ. राजेश कांग्रेस के पास न तो कोई नेता है ओर नही नीति: त्रिलोक कपूर राज्यपाल सचिवालय में ई-ऑफिस कार्यान्वित आईटीआई जोगिंद्रनगर के प्रशिक्षुओं ने निकाली बाईक रैली

जीएसटी परिषद की बैठक कल,11 कोविड दवाओं पर कर छूट पर होगा विचार

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Thursday, September 16, 2021 17:35 PM IST
जीएसटी परिषद की बैठक कल,11 कोविड दवाओं पर कर छूट पर होगा विचार

नई दिल्ली, 16 सितंबर। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में जीएसटी परिषद की बैठक शुक्रवार को होगी। इसमें चार दर्जन से अधिक वस्तुओं पर कर की दर की समीक्षा की जा सकती है और 11 कोविड दवाओं पर कर छूट को 31 दिसंबर तक बढ़ाया जा सकता है।

 

जीएसटी परिषद की 17 सितंबर को लखनऊ में होने वाली बैठक के दौरान एकल राष्ट्रीय जीएसटी कर के तहत पेट्रोल और डीजल पर कर लगाने और जोमैटो तथा स्विगी जैसे खाद्य डिलीवरी ऐप को रेस्टोरेंट के रूप में मानने और उनके द्वारा की गई डिलीवरी पर पांच प्रतिशत जीएसटी लगाने के प्रस्ताव पर भी विचार किया जाएगा।

 

वित्त मंत्रालय ने ट्वीट किया कि ‘वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण कल लखनऊ में सुबह 11 बजे जीएसटी परिषद की 45वीं बैठक की अध्यक्षता करेंगी। बैठक में राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के वित्त मंत्रियों और केंद्र सरकार तथा राज्यों के वरिष्ठ अधिकारियों के अलावा वित्त राज्य मंत्री पंकज चौधरी शामिल होंगे।

 

सूत्रों ने कहा कि इस बैठक में कोविड-19 से जुड़ी आवश्यक सामग्री पर शुल्क राहत की समयसीमा को भी आगे बढ़ाया जा सकता है। देश में इस समय वाहन ईंधन के दाम रिकॉर्ड ऊंचाई पर हैं। वर्तमान में राज्यों द्वारा पेट्रोल, डीजल की उत्पादन लागत पर वैट नहीं लगता बल्कि इससे पहले केंद्र द्वारा इनके उत्पादन पर उत्पाद शुल्क लगाया जाता है, उसके बाद राज्य उस पर वैट वसूलते हैं।

 

केरल उच्च न्यायालय ने जून में एक रिट याचिका पर सुनवाई के दौरान जीएसटी परिषद से पेट्रोल और डीजल को जीएसटी के तहत लाने पर फैसला करने को कहा था। सूत्रों ने कहा कि न्यायालय ने परिषद को ऐसा करने को कहा है। ऐसे में इसपर परिषद की बैठक में विचार हो सकता है।

 

देश में जीएसटी व्यवस्था एक जुलाई, 2017 से लागू हुई थी। जीएसटी में केंद्रीय कर मसलन उत्पाद शुल्क और राज्यों के शुल्क मसलन वैट को समाहित किया गया था, लेकिन पेट्रोल, डीजल, एटीएफ, प्राकृतिक गैस तथा कच्चे तेल को जीएसटी के दायरे से बाहर रखा गया। इसकी वजह यह है कि केंद्र और राज्य सरकारों दोनों को इन उत्पादों पर कर से भारी राजस्व मिलता है।

जियो ने अगस्त में 6.49 लाख, एयरटेल ने 1.38 लाख नए मोबाइल ग्राहक जोड़े

ट्राई के आंकड़े : जियो ने अगस्त में 6.49 लाख, एयरटेल ने 1.38 लाख नए मोबाइल ग्राहक जोड़े

डॉट ने एयरटेल, वीआईएल पर 3,050 करोड़ का जुर्माना ठोका, कोर्ट जाएंगी एयरटेल

नियामक कार्रवाई : डॉट ने एयरटेल, वीआईएल पर 3,050 करोड़ का जुर्माना ठोका, कोर्ट जाएंगी एयरटेल

टाटा संस ने एयर इंडिया के लिए लगाई सबसे बड़ी बोली,अभी सरकार ने नहीं दी मंजूरी

अपने घर लौटेगी एयर इंडिया : टाटा संस ने एयर इंडिया के लिए लगाई सबसे बड़ी बोली,अभी सरकार ने नहीं दी मंजूरी

सेंसेक्स ने 8 महीनों में पूरा किया 50 हजार से 60 हजार का सफर

बाजार का कीर्तिमान : सेंसेक्स ने 8 महीनों में पूरा किया 50 हजार से 60 हजार का सफर

जी एंटरटेनमेंट, सोनी इंडिया ने विलय की घोषणा की, पुनीत गोयनका करेंगे नेतृत्व

बिजनेस डील : जी एंटरटेनमेंट, सोनी इंडिया ने विलय की घोषणा की, पुनीत गोयनका करेंगे नेतृत्व

सरकार ने टेस्ला से कहा, पहले भारत में विनिर्माण शुरू करे, फिर कर रियायत पर विचार

इलेक्‍ट्रिक वाहन निर्माण : सरकार ने टेस्ला से कहा, पहले भारत में विनिर्माण शुरू करे, फिर कर रियायत पर विचार

भारत, अमेरिका उभरते ईंधन पर सहयोग के लिए सहमत

स्वच्छ ऊर्जा साझेदारी : भारत, अमेरिका उभरते ईंधन पर सहयोग के लिए सहमत

भारतीय कंपनियां इस साल 8.8 प्रतिशत, 2022 में 9.4 प्रतिशत वेतन वृद्धि देंगी

खुशखबरी : भारतीय कंपनियां इस साल 8.8 प्रतिशत, 2022 में 9.4 प्रतिशत वेतन वृद्धि देंगी

VIDEO POST

View All Videos