Wednesday, January 19, 2022
BREAKING
चंबा-शिमला के विधायकों ने रखी अपने क्षेत्र के विकास की प्राथमिकताएं बेरोजगार वेटेरिनरी फार्मासिस्टों ने सीएम को भेजा ज्ञापन, नई पंचायतों में मिले नियुक्‍ति   पीडब्‍ल्‍यूडी बेलदार हादसे का शिकार, 4 की मौत, 3 घायल जिला कांगड़ा के विधायकों ने रखी प्राथमिकता, सीएम ने डीपीआर समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश दिए सराह के टॉंग लेन को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया हमीरपुर में रैपिड एंटीजन टैस्ट में 168 कोरोना पॉजिटिव डॉ. सैजल बोले, नई शिक्षा नीति युवाओं के कौशल विकास में कारगर मुख्यमंत्री धर्मशाला रोपवे के अलावा करोड़ों की योजनाओं के उद्घाटन/शिलान्यास करेंगे ऊना में मिले दो ओमिक्रॉन संक्रमित, विदेश से लौटे थे दोनों बिलासपुर एम्‍स के निकट पावर हाउस में हादसा, दो मजदूर दबे एक की मौत

सावरकर पर जुल्‍मों का विरोध किया तो पिंजरे में बंद किए गए थे भाई हिरदा राम

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Sunday, November 28, 2021 18:24 PM IST
सावरकर पर जुल्‍मों का विरोध किया तो पिंजरे में बंद किए गए थे भाई हिरदा राम

मंडी, 28 नवंबर मंडी के वीर सपूत महान स्वतंत्रता सेनानी भाई हिरदा राम की जयंती पर कृतज्ञ मंडीवासियों ने उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस उपलक्ष्य पर रविवार को मंडी की इंदिरा मार्केट में स्थित भाई हिरदा राम स्मारक में आयोजित समारोह में उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए गए।

इस सादे किंतु गरिमापूर्ण समारोह में भाई हिरदाराम स्मारक समिति और उनके परिजनों, नगर निगम मंडी की महापौर दिपाली जसवाल, उपमहापौर वीरेंद्र भट्ट एवं अन्य पार्षदों, विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के पदाधिकारियों सहित बड़ी संख्या में मंडीवासियों ने उनकी प्रतिमा पर फूल माला अर्पित कर स्वतंत्रता संग्राम में उनके योगदान को याद किया।

 

भाई हिरदा राम स्मारक समिति के सचिव एवं वरिष्ठ साहित्यकार कृष्ण कुमार नूतन ने भाई हिरदा राम के जीवन व कर्तृत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि क्रांतिकारी भाई हिरदा राम ने देश की स्वतंत्रता के लिए अंग्रेजों की अनेक यातनाएं हंसते हंसते सहीं। मंडी में गदर पार्टी की स्थापना और अंग्रजों के खिलाफ क्रांति का बिगुल बजाने में उनका योगदान अविस्मरणीय है।

 

कृष्ण कुमार नूतन ने बताया कि भाई हिरदा राम कालापानी में आजीवन कारावास की सजा भुगतते हुए स्वतंत्रता सेनानी वीर सावरकर के साथ जेल में रहे। एक बार उन्होंने देखा कि हथकड़ी और बेड़ियों में जकड़े वीर सावरकर को कोड़ों से पीटा जा रहे है, उन्होंने इसका विरोध किया। इस पर उन्हें 40 दिन तक 5 फीट के एक लोहे के पिंजरे में बन्द कर दिया गया।

28 नवंबर 1885 को मंडी में जन्मे भाई हिरदा राम का 21 अगस्त, 1965 को देहांत हुआ था। 

मंडी जिले में कोरोना से सुरक्षा के लिए लागू रहेंगी कुछ बंदिशें

डीसी की अपील : मंडी जिले में कोरोना से सुरक्षा के लिए लागू रहेंगी कुछ बंदिशें

मंडी में नॉर्थ जोन इंटर यूनिवर्सिटी कबड्डी चैम्पियनशिप, सीएम ने किया शुभारंभ

32 विवि की 400 छात्राएं शामिल : मंडी में नॉर्थ जोन इंटर यूनिवर्सिटी कबड्डी चैम्पियनशिप, सीएम ने किया शुभारंभ

मुख्‍यमंत्री बोले दी सीडी साख सहकारी सभा सीमित गोहर को बैंक में बदला जाएगा

आरबीआई से की जाएगी बात   : मुख्‍यमंत्री बोले दी सीडी साख सहकारी सभा सीमित गोहर को बैंक में बदला जाएगा

हिमाचल में ओमिक्रोन की दस्‍तक, सीएम बोले घबराने की जरूरत नहीं

कोविड-19 : हिमाचल में ओमिक्रोन की दस्‍तक, सीएम बोले घबराने की जरूरत नहीं

श्रवण एवं दृष्टिबाधित स्कूल पहुंचे राज्‍यपाल, बोले ये बच्‍चे योग्‍य और बुद्धिमान

स्‍मार्ट कक्षा की घोषणा : श्रवण एवं दृष्टिबाधित स्कूल पहुंचे राज्‍यपाल, बोले ये बच्‍चे योग्‍य और बुद्धिमान

मंडी जिला में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के 39186 नये मामले हुए स्वीकृत

सेवा और सिद्धि के, चार साल समृद्धि के : मंडी जिला में सामाजिक सुरक्षा पेंशन के 39186 नये मामले हुए स्वीकृत

मुख्यमंत्री ने शिवधाम का निर्माण समयबद्ध पूरा करने के निर्देश दिए

समीक्षा : मुख्यमंत्री ने शिवधाम का निर्माण समयबद्ध पूरा करने के निर्देश दिए

मुख्यमंत्री ने सुंदरनगर में पीएसए प्लांट का उद्घाटन किया

बाड़ी में खुलेगा पशु औषधालय : मुख्यमंत्री ने सुंदरनगर में पीएसए प्लांट का उद्घाटन किया

VIDEO POST

View All Videos