Wednesday, July 24, 2024
BREAKING
सरकारी स्‍कूलों में छात्रों की भारी गिरावट पर सीएम चिंतित, स्कूल होंगे मर्ज मुख्यमंत्री ने केंद्रीय बजट को निराशाजनक और किसान विरोधी बताया सभी वर्गों के सशक्तिकरण का साधन है केंद्रीय बजट: जयराम ठाकुर नादौन में 100 पदों के लिए इंटरव्‍यू 24 को, वेतन 16157 रुपये परिवहन निगम में 357 कंडक्टरों को जल्द मिलेगी नियुक्ति: मुकेश अग्निहोत्री सीएम ने अम्रुत योजना में पहाड़ी राज्यों के लिए मापदंडों में ढील देने का आग्रह किया कांगड़ा में एटीएम चोरी के प्रयास में कोहाला के तीन युवक दबोचे हिमकेयर योजना के तहत की गई 100 करोड़ रुपये की प्रतिपूर्ति: संजय अवस्‍थी जयराम झूठे, 2023-2024 में शगुन योजना के तहत 4,662 बेटियों को दिए 14.45 करोड़: शांडिल ऊना और हमीरपुर में नौकरी का मौका, कंपनियां भरेंगी विभिन्‍न ट्रेडों के कई पद
 

सरकार की तनाशाही के कारण निर्दलीय विधायकों को देना पड़ा इस्तीफ़ा: जयराम ठाकुर

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Tuesday, June 18, 2024 19:54 PM IST
सरकार की तनाशाही के कारण निर्दलीय विधायकों को देना पड़ा इस्तीफ़ा: जयराम ठाकुर

हमीरपुर, 18 जून। नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने हमीरपुर से उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी आशीष शर्मा के नामांकन के बाद आयोजित जनसभा में कहा कि सरकार की तानाशाही के कारण निर्दलीय विधायकों को इस्तीफ़ा देना पड़ा। मुख्यमंत्री सत्ता की ताक़त का दुरूपयोग करके निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल करना चाहते थे। सत्ता के दम पर सभी निर्दलीय विधायकों को भी डराया धमकाया गया। कांग्रेस के राज्यसभा का चुनाव हारने के बाद निर्दलीय विधायकों पर मुक़दमे हुए। उन्हें जेल भेजने की साज़िशें हुईं। उनके परिवार के लोगों पर, रिश्तेदारों पर भी मुक़दमे हुए। समर्थन न देने पर सत्ता के दम पर ऐसा दमन आज तक किसी ने नहीं देखा, न सुना। उन्‍होंने कहा कि सुक्खू सरकार से प्रताड़ित होकर आशीष समेत तीनों विधायकों ने अपनी विधायकी छोड़ दी। यह प्रताड़ना उन्हें हमीरपुर के हितों में आवाज़ उठाने पर चुकानी पड़ी। विकास के कामों को बहाल करने की माँग सरकार को रास नहीं आई।

 

जयराम ठाकुर ने कहा कि निर्दलीय विधायक का मतलब होता है वह किसी भी दल का मुद्दों पर सहयोग करे, लेकिन सरकार चाहती है कि वह सरकार के हिसाब से काम करें नहीं तो अंजाम भुगतने के लिए तैयार रहें। कांग्रेस के राजसभा प्रत्याशी सुक्खू सरकार के फ़ैसलों के ख़िलाफ़ ही केस लड़ चुके थे और हिमाचल से उनका कोई वास्ता नहीं था, उन्हें वोट न देने पर सरकार द्वारा इन विधायकों को प्रताड़ित किया गया। व्यावसायिक प्रतिष्ठानों को बंद करने की कोशिश की गई, उनके सहयोगियों पर मुक़दमा दर्ज कर फ़साने की धमकी दी गई। सरकार हार का बदला निकालने के लिए प्रदेश के लोगों द्वारा चुने गये विधायकों को हर तरह से प्रताड़ित किया। विधायकी से इस्तीफ़ा देने के बाद भी ये नेता अब भी सरकार के निशाने पर हैं।

 

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि अपने क्षेत्र के लोगों के हितों की आवाज़ उठाने के लिए आशीष समेत सभी नेताओं को विधायक छोड़नी पड़ी। अब उनके साथ हमीरपुर के लोगों का आशीर्वाद है। राज्यसभा में भाजपा के प्रत्याशी को वोट देने के कारण उन्हें इतनी प्रताड़ना झेलनी पड़ी। भाजपा ने इसीलिए सभी को टिकट दिया है। हमीरपुर के लोगों का प्रेम और आशीर्वाद आशीष के साथ है वह भारी से भारी मतों से फिर से विजयी होंगे। इस मौक़े पर पूर्व केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर, प्रदेशाध्यक्ष डॉ राजीव बिंदल, रणधीर शर्मा, त्रिलोक जम्वाल, सुधीर शर्मा समेत, पदाधिकारी, कार्यकर्ता और भारी संख्या में स्थानीय लोग उपस्थित रहे।

 

प्रधानमंत्री का आभार और किसानों को बधाई

 

नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने प्रधानमंत्री द्वारा किसान सम्मान निधि की 17वीं किश्त जारी करने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आभार जताया और सभी देशवाशियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस बार 9 करोड़ 26 लाख से ज़्यादा किसानों को 20 हज़ार करोड़ रुपए सीधे खाते में डाले गये। इसके पहले 16 किश्तों में किसानों के खाते में 3.04 लाख करोड़ रुपए पहले से डाले जा चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश के किसानों, ग़रीबों,युवाओं और महिलाओं को सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है।

 

देहरा में एसपी आफिस और पीडब्‍ल्‍यूडी डिवीजन खालने का निर्णय आचार संहिता का उल्‍लंघन

 

जयराम ठाकुर ने कहा कि इस समय प्रदेश में आचार संहिता लगी है, देहरा में भी उपचुनाव हो रहे हैं। इसके बावजूद देहरा में एसपी ऑफिस और पीडब्ल्यूडी का डिवीज़न खोला जा रहा है। उन्‍होंने हिमाचल प्रदेश मंत्रिमंडल के इस निर्णय को चुनावी घोषणा करार देते हुए इसे खुलेआम आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन बताया है। पूर्व सीएम ने कहा कि मुख्यमंत्री को देहरा की स्थिति पता है और कांग्रेस यहाँ से बुरी तरह हारने वाली है। ऐसे में मुख्यमंत्री द्वारा जानबूझकर ऐसा हथकंडा अपनाया जा रहा है। हर चुनाव की तरह इस बार भी चुनाव में लोगों को धोखा देने की कोशिश की जा रही है। उन्‍होंने कहा कि हाल ही के लोकसभा चुनाव के नतीजों से साफ़ हो गया है कि प्रदेश के लोगों ने प्रदेश सरकार, कांग्रेस, मुख्यमंत्री और मंत्रियों को नकार दिया है लिहाजा उपचुनाव के दौरान कांग्रेस के इस तरह के हथकंडे काम नहीं आयेंगे।

हमीरपुर में 65 करोड़ रुपये की लागत से बन रहा है अत्याधुनिक बस स्टैंड

अमलीजामा : हमीरपुर में 65 करोड़ रुपये की लागत से बन रहा है अत्याधुनिक बस स्टैंड

उपचुनाव में भाजपा की जीत के बाद हिमाचल की राजनीति में भूचाल तय: जयराम

प्रचार : उपचुनाव में भाजपा की जीत के बाद हिमाचल की राजनीति में भूचाल तय: जयराम

धूमल को कमजोर करने के लिए जयराम ने हमीरपुर में नहीं किया विकास: सीएम

प्रचार : धूमल को कमजोर करने के लिए जयराम ने हमीरपुर में नहीं किया विकास: सीएम

आशीष जनसेवक नहीं ठेकेदार, 14 महीने में 135 करोड़ रुपये के ठेके लिये: मुख्यमंत्री

जनसभा : आशीष जनसेवक नहीं ठेकेदार, 14 महीने में 135 करोड़ रुपये के ठेके लिये: मुख्यमंत्री

पुष्पिंदर वर्मा की नामांकन रैली में बोले सीएम भाजपा प्रत्‍याशी आशीष खनन माफिया

उपचुनाव : पुष्पिंदर वर्मा की नामांकन रैली में बोले सीएम भाजपा प्रत्‍याशी आशीष खनन माफिया

मुख्‍यमंत्री और हाईकमान पर छोड़ा हमीरपुर से कांग्रेस टिकट का फैसला

संकल्प : मुख्‍यमंत्री और हाईकमान पर छोड़ा हमीरपुर से कांग्रेस टिकट का फैसला

जनता ने सुक्खू सरकार पर जताया भरोसा, हमीरपुर के विकास को मिलेगा बल: सुनील बिट्टू

बैठक : जनता ने सुक्खू सरकार पर जताया भरोसा, हमीरपुर के विकास को मिलेगा बल: सुनील बिट्टू

मुख्यमंत्री सुक्खू बताए कि कहां मिले और कहां गये 55 लाख रुपए : जयराम ठाकुर

जनसभा : मुख्यमंत्री सुक्खू बताए कि कहां मिले और कहां गये 55 लाख रुपए : जयराम ठाकुर

VIDEO POST

View All Videos
X