Monday, September 20, 2021
BREAKING
यूपी के युवक ने शिमला की महिला को फेसबुक के जरिए जाल में फंसा किया दुष्‍कर्म चरणजीत चन्‍नी होंगे पंजाब के नए सरदार, सिद्धू के विरोध के चलते रंधावा चूके शिमला से दिल्‍ली रवाना हुए राष्‍ट्रपति, खराब मौसम के चलते 3 घंटे देरी से उड़ा हैलीकाप्‍टर   मंडी के पास ब्‍यास में गिरी मिली हरियाणा नंबर की कार, चालक व सवार लपता, गोताखोर बुलाए दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना ने युवाओं के लिए खोले रोजगार के द्वार मंडी में ममता शर्मसार, मां ने खड्ड में फैंक दी दो दुधमुही बच्‍चियां, मौत बिलासपुर जिला कांग्रेस कमेटी ने बैठक करके आगामी चुनावों को लेकर बनाई रणनीति एम्‍स में एमबीबीएस प्रशिक्षुओं ने केंटीन कर्मी को पीटा, कारें तोड़ीं हिमाचल में 947.47 करोड़ रुपये निवेश के प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की गुगल पे अकाउंट खोलने के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी

जन-धन खाताधारकों की संख्या 43 करोड़ हुई, 1.46 लाख करोड़ रुपये जमा, 85.6 फीसदी सक्रिय

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Sunday, August 29, 2021 17:50 PM IST
जन-धन खाताधारकों की संख्या 43 करोड़ हुई, 1.46 लाख करोड़ रुपये जमा, 85.6 फीसदी सक्रिय

नई दिल्ली,28 अगस्त। प्रधानमंत्री जन-धन योजना (पीएमजेडीवाई) के तहत बैंक खाताधारकों की संख्या बढ़कर 43 करोड़ तथा इन खातों में जमा राशि बढ़कर 1.46 लाख करोड़ रुपये के पार पहुंच गई है। वित्त मंत्रालय ने शनिवार यह जानकारी देते हुए बताया कि सरकार की प्रमुख वित्तीय समावेशन योजना के क्रियान्वयन के सात साल पूरे हो गए हैं। पीएमजेडीवाई की घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद मोदी ने 15 अगस्त, 2014 को की थी। साथ ही वित्तीय समावेशन को बढ़ावा देने के लिए इसे 28 अगस्त को शुरू किया गया था।

 

यह राष्ट्रीय मिशन वित्तीय सेवाओं यानी बैंकिंग, धन भेजने की सुविधा, ऋण, बीमा, पेंशन जैसी सुविधाओं तक लोगों की आसान पहुंच सुनिश्चित करने के लिए शुरू किया गया था। वित्त मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि अर्द्ध-शहरी और ग्रामीण इलाकों में जन-धन खाताधारकों की कुल संख्या 18 अगस्त, 2021 तक 43.04 करोड़ हो गई है। इसमें से 55.47 प्रतिशत या 23.87 करोड़ खाताधारक महिलाएं और 66.69 प्रतिशत यानी 28.70 करोड़ खाताधारक पुरुरू हैं।

 

मंत्रालय के अनुसार इस योजना के पहले वर्ष में 17.90 करोड़ जन-धन खाते खोले गए थे। वित्त मंत्रालय ने बताया कि कुल 43.04 करोड़ खातों में से 36.86 करोड़ यानी 85.6 प्रतिशत खाते सक्रिय है और इनमें प्रति खाता औसत जमा राशि 3,398 रुपये है। मंत्रालय ने कहा कि औसत जमा में वृद्धि खातों के बढ़ते उपयोग और खाताधारकों में बचत की आदत का एक और संकेत है। जन-धन खाताधारकों को जारी रूपे कार्ड की संख्या 31.23 करोड़ पर पहुंच गई है। 28 अगस्त, 2018 से रूपे कार्ड पर मुफ्त दुर्घटना बीमा कवर एक लाख रुपये से बढ़ाकर दो लाख रुपये कर दिया गया है।

 

जन-धन योजना ने भारत के विकास की गति बदली: मोदी

 

नई दिल्ली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री जन-धन योजना (पीएमजेडीवाई) के सात साल पूरे होने के अवसर पर शनिवार को कहा कि इस पहल ने ना सिर्फ भारत के विकास की गति को हमेशा के लिए बदल दिया है बल्कि इसने अनगिनत भारतीयों का वित्तीय समावेशन, सम्मान का जीवन और सशक्तीकरण सुनिश्चित किया है। केंद्र सरकार द्वारा देश के नागरिकों तक बैंकिंग सुविधाओं की सार्वभौमिक पहुंच सुनिश्चित करने के लिए वर्ष 2014 में शुरू की गई पीएमजेडीवाई ने 28 अगस्त 2021 को सात वर्ष पूरे किए हैं।

 

प्रधानमंत्री ने एक ट्वीट में कहा कि  ‘आज पीएम जन-धन योजना के सात साल हो रहे हैं। एक ऐसी पहल जिसने भारत के विकास की गति को हमेशा के लिए बदल दिया। इस योजना ने वित्तीय समावेशन और सम्मान का जीवन सुनिश्चित करने के साथ ही अनगिनत भारतीयों का सशक्तीकरण सुनिश्चित किया है। जन-धन योजना ने पारदर्शिता को मजबूत करने में भी मदद की है।’

 

इस अवसर पर उन्होंने इस योजना को सफल बनाने में योगदान देने वाले सभी लोगों की सराहना करते हुए कहा कि ‘उनके प्रयासों ने भारत के लोगों के जीवन को बेहतर बनाना सुनिश्चित किया है।’

जीएसटी परिषद की बैठक कल,11 कोविड दवाओं पर कर छूट पर होगा विचार

दरों की समीक्षा के लिए   : जीएसटी परिषद की बैठक कल,11 कोविड दवाओं पर कर छूट पर होगा विचार

सरकार ने टेस्ला से कहा, पहले भारत में विनिर्माण शुरू करे, फिर कर रियायत पर विचार

इलेक्‍ट्रिक वाहन निर्माण : सरकार ने टेस्ला से कहा, पहले भारत में विनिर्माण शुरू करे, फिर कर रियायत पर विचार

भारत, अमेरिका उभरते ईंधन पर सहयोग के लिए सहमत

स्वच्छ ऊर्जा साझेदारी : भारत, अमेरिका उभरते ईंधन पर सहयोग के लिए सहमत

भारतीय कंपनियां इस साल 8.8 प्रतिशत, 2022 में 9.4 प्रतिशत वेतन वृद्धि देंगी

खुशखबरी : भारतीय कंपनियां इस साल 8.8 प्रतिशत, 2022 में 9.4 प्रतिशत वेतन वृद्धि देंगी

जीएसटी संग्रह अगस्त में 1.12 लाख करोड़, लगातार दूसरे महीने एक लाख करोड़ से ऊपर रहा

राजस्‍व  : जीएसटी संग्रह अगस्त में 1.12 लाख करोड़, लगातार दूसरे महीने एक लाख करोड़ से ऊपर रहा

सितंबर में कारों के सभी मॉडलों के दाम बढ़ाएगी मारुति सुजुकी

महंगाई : सितंबर में कारों के सभी मॉडलों के दाम बढ़ाएगी मारुति सुजुकी

व्‍यक्‍तिगत वाहनों के लिए नई ‘बीएच’ पंजीकरण श्रृंखला, वाहन दूसरे राज्य में स्थानांतरित होने पर नए सिरे से पंजीकरण की जरूरत नहीं

भारत श्रृंखला : व्‍यक्‍तिगत वाहनों के लिए नई ‘बीएच’ पंजीकरण श्रृंखला, वाहन दूसरे राज्य में स्थानांतरित होने पर नए सिरे से पंजीकरण की जरूरत नहीं

 भारतीय स्टार्टअप कंपनियों ने जून तिमाही में 6.5 अरब डॉलर का निवेश जुटाया

आर्थिक रिपोर्ट :  भारतीय स्टार्टअप कंपनियों ने जून तिमाही में 6.5 अरब डॉलर का निवेश जुटाया

VIDEO POST

View All Videos