Saturday, October 08, 2022
BREAKING
मुख्यमंत्री ने ऊना में 200 करोड़ की परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास किए मौसा ने किया भांजी से दुष्‍कर्म, मेडिकल में गर्भवती पाई गई मंदिर जा रही महिला को अज्ञात वाहन ने रौंदा, मौत सीएम ने दसवीं तथा बारहवीं कक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया खलीणी में 6.45 करोड़ से निर्मित राज्य कृषि विपणन बोर्ड के कांप्लेक्स का लोकार्पण मंडी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के सामाजिक प्रभाव के आकलन की प्रक्रिया शुरू शोभायात्रा में माथा टेकने जा रहे पूर्व कैप्‍टन की ट्रक की चपेट में आकर मौत पीटीए नियमित अध्यापक संघ ने नियमितीकरण पर सीएम का आभार जताया 225 पदों के लिए को कैंपस इंटरव्यू 11 अक्तूबर को हिमाचल मंत्रिमंडल के ताबड़तोड़ फैसले पढ़ें आपके क्षेत्र को क्‍या मिला
Strip 1-5(4)

व्‍यक्‍तिगत वाहनों के लिए नई ‘बीएच’ पंजीकरण श्रृंखला, वाहन दूसरे राज्य में स्थानांतरित होने पर नए सिरे से पंजीकरण की जरूरत नहीं

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Sunday, August 29, 2021 17:50 PM IST
व्‍यक्‍तिगत वाहनों के लिए नई ‘बीएच’ पंजीकरण श्रृंखला, वाहन दूसरे राज्य में स्थानांतरित होने पर नए सिरे से पंजीकरण की जरूरत नहीं

नई दिल्ली, 28 अगस्त। राज्यों के बीच व्यक्तिगत वाहनों के सुगमता से हस्तांतरण के लिए सड़क परिवहन मंत्रालय ने नई पंजीकरण श्रृंखला शुरू की है। मंत्रालय ने इस व्यवस्था के तहत नए पंजीकरण चिह्न भारत श्रृंखला (बीएच-सीरीज) को अधिसूचित किया है। इस व्यवस्थता के तहत वाहन मालिकों को एक राज्य/संघ शासित प्रदेश से दूसरे राज्य/संघ शासित प्रदेश में स्थानांतरित होने पर नए सिरे से पंजीकरण कराने की जरूरत नहीं होगी।

 

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने शनिवार को एक बयान में कहा कि ‘भारत श्रंखला के तहत रक्षा कर्मियों, केंद्र सरकार/राज्य सरकार, केंद्रीय/राज्य सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रमों और निजी क्षेत्र की कंपनियों या संगठनों के उन कर्मचारियों को यह सुविधा स्वैच्छिक आधार पर उपलब्ध होगी, जिनके कार्यालय चार या अधिक राज्यों/संघ शासित प्रदेशों में हैं।’

 

इस योजना के तहत राज्यों/संघ शासित प्रदेशों के बीच व्यक्तिगत वाहनों की आवाजाही सुगमता से हो सकेगी। बयान में कहा गया कि ‘वाहनों के पंजीकरण के लिए आईटी आधारित समाधान इस दिशा में एक प्रयास है। एक राज्य से दूसरे राज्य में स्थानांतरण पर वाहनों का पुन: पंजीकरण कराने की जरूरत होती थी, जो काफी परेशानी वाला काम होता था।’

 

बीएच श्रृंखला का पंजीकरण चिह्न वाईवाई बीएच ####एक्सएक्स होगा। वाईवाई से आशय पहले पंजीकरण के वर्ष से होगा। बीएच भारत श्रृंखला का कोड होगा। #### चार अंकों की संख्या और एक्सएक्स दो अक्षर होंगे।

 

मंत्रालय ने 26 अगस्त, 2021 को जारी अधिसूचना के जरिये नए वाहनों के पंजीकरण के लिए नया पंजीकरण चिह्न भारत श्रृंखला शुरू किया है। इस पंजीकरण चिह्न वाले वाहनों के मालिकों को दूसरे राज्य में स्थानांतरित होने पर नए सिरे से पंजीकरण कराने की जरूरत नहीं होगी।

 

अधिसूचना के अनुसार बीएच-श्रृंखला के गैर-परिवहन वाहनों के पंजीकरण के समय राज्यों/संघ शासित प्रदेशों द्वारा 10 लाख रुपये तक के वाहन पर आठ प्रतिशत का मोटर वाहन कर लिया जाएगा। 10 से 20 लाख रुपये के वाहन पर यह कर 10 प्रतिशत, 20 लाख रुपये से अधिक के वाहन पर 12 प्रतिशत होगा। डीजल वाहनों पर दो प्रतिशत अतिरिक्त शुल्क लिया जाएगा। वहीं इलेक्ट्रिक वाहनों पर दो प्रतिशत कम शुल्क लगेगा।

अडाणी विल्मर ने 'कोहिनूर' समेत कई ब्रांड खरीदे, खाद्य कारोबार करेगा मजबूत

कारोबारी सौदा : अडाणी विल्मर ने 'कोहिनूर' समेत कई ब्रांड खरीदे, खाद्य कारोबार करेगा मजबूत

AMANI Air X TWS लॉन्च, 10 घंटे तक चलेंगे नॉन-स्टॉप, कम कीमत में बढ़िया साउंड क्वालिटी

Low Cost : AMANI Air X TWS लॉन्च, 10 घंटे तक चलेंगे नॉन-स्टॉप, कम कीमत में बढ़िया साउंड क्वालिटी

LIC के IPO में निवेश करना चाहते हैं, तो जल्द से जल्द पूरा करें इन प्रक्रियाओं को

मौका : LIC के IPO में निवेश करना चाहते हैं, तो जल्द से जल्द पूरा करें इन प्रक्रियाओं को

पेट्रोल, डीज़ल की कीमत में फिर से बढ़ोतरी, 100 से पार

सातवीं बार बढ़े दाम : पेट्रोल, डीज़ल की कीमत में फिर से बढ़ोतरी, 100 से पार

5जी स्पेक्ट्रम नीलामी को अंतिम रूप देने के लिए खुली चर्चा शुरू

परामर्श पत्र : 5जी स्पेक्ट्रम नीलामी को अंतिम रूप देने के लिए खुली चर्चा शुरू

चिप डिजाइन, इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण सेवाओं में अवसरों का लाभ उठाएगा भारत

केंद्रीय आईटी राज्‍यमंत्री ने कहा : चिप डिजाइन, इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माण सेवाओं में अवसरों का लाभ उठाएगा भारत

नौ चयनित क्षेत्रों में कुल रोजगार जुलाई-सितंबर 2021 में बढ़कर 3.10 करोड़ हुआ

क्‍यूईएस : नौ चयनित क्षेत्रों में कुल रोजगार जुलाई-सितंबर 2021 में बढ़कर 3.10 करोड़ हुआ

अक्टूबर में जीएसटी संग्रह बढ़कर 1.30 लाख करोड़ हुआ

सरकार मालामाल : अक्टूबर में जीएसटी संग्रह बढ़कर 1.30 लाख करोड़ हुआ

VIDEO POST

View All Videos
X