Friday, October 22, 2021
BREAKING
हिमाचलियों को विदेशी रहन सहन समझने में मदद करेगी हिमाचली प्रवासी ग्लोबल एसोसिएशन  डीसी ने हमीरपुर अस्पताल में किया दो अत्याधुनिक मशीनों का लोकार्पण मां के पास खेल रही बच्ची को छीन ले गई मौत, टैंक में मिला शव न्यायमूर्ति सुरेश्वर ठाकुर की गरिमापूर्ण विदाई शादी से लौटते समय बारात की कार पेड़ से टकराई, दो युवकों की मौत, 3 घायल बहुतकनीकी संस्थान चंबा में दी एंटी रैगिंग एक्‍ट की जानकारी उपचुनावों में कांग्रेस का मुकाबला आजाद प्रत्‍याशियों से, भाजपा तीसरे नंबर पर: डॉ. राजेश कांग्रेस के पास न तो कोई नेता है ओर नही नीति: त्रिलोक कपूर राज्यपाल सचिवालय में ई-ऑफिस कार्यान्वित आईटीआई जोगिंद्रनगर के प्रशिक्षुओं ने निकाली बाईक रैली

648 लोग स्क्रब टाइफस पॉजिटिव पाए गए, 6 की मौत, बचाव के लिए एडवाइजरी जारी

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Monday, October 11, 2021 18:12 PM IST
648 लोग स्क्रब टाइफस पॉजिटिव पाए गए, 6 की मौत, बचाव के लिए एडवाइजरी जारी

 

शिमला, 11 अक्‍तूबर। राज्य स्वास्थ्य विभाग ने प्रदेशवासियों का आह्वान किया है कि स्क्रब टाइफस से बचाव के दृष्टिगत अपने घरों और आसपास के क्षेत्र में झाडि़यां और घास फूस न उगने दें। झाड़ियों और घास फूस में पाए जाने वाले कीड़ों के माध्यम से यह रोग फैलता है। विभाग ने लोगों को स्क्रब टाइफस से सतर्क रहने की सलाह दी है।

 

विभाग के प्रवक्ता ने आज यहां कहा कि डेंगू और चिकनगुनिया के मामले जहां शहरी क्षेत्रों में पाए जाते हैं, वही स्क्रब टाइफस के मामले अधिकतर गांवों में सामने आते हैं। स्क्रब टाइफस एक बैक्टीरिया का संक्रमण है और इसके लक्षण चिकनगुनिया जैसे ही होते हैं।

 

 उन्होंने कहा कि इस बीमारी में सिर दर्द, सर्दी लगना, बुखार, शरीर में दर्द तथा तीसरे से पांचवे दिन के बीच शरीर पर लाल दाने जैसे लक्षण दिखाई देते हैं। मरीज में रोग के सभी या कुछ लक्षण सामने आ सकते हैं। इस रोग की अवधि दो से तीन सप्ताह की होती है। यह रोग कीड़ों के काटने से फैलता है।

 

प्रवक्ता ने कहा कि संक्रमित होने के पश्चात् मरीज बहुत ज्यादा कमजोरी महसूस करता है और कुछ लोगों में जी-मिचलाने की भी शिकायत देखी जाती है। स्क्रब टाइफस बुखार 7 से लेकर 12 दिनों तक रहता है। बुखार बिगड़ने की स्थिति में कमजोरी और अधिक बढ़ती है। मरीज को बेहोशी और हृदय संबंधी समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है। बुखार के चैथे से छठे दिन के भीतर शरीर पर दाने निगल आते हैं। यह रोग कम आयु के लोगों के खतरनाक नहीं होता है, लेकिन 40 वर्ष से अधिक आयु के 50 प्रतिशत मरीजों और 60 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के मरीजों के लिए स्क्रब टाइफस जानलेवा भी हो सकता है।

 

उन्होंने कहा कि जनवरी-2021 से 12 अक्तूबर  तक राज्य में स्क्रब टाइफस के लिए लगभग 4382 टेस्ट किए गए, जिनमें 648 लोग स्क्रब टाइफस पॉजिटिव पाए गए। इसी अवधि के दौरान जिला बिलासपुर में 132, चंबा में 45, हमीरपुर में 56, कांगड़ा में 63, किन्नौर में 3, कुल्लू में 17, मंडी में 97, शिमला में 153, सिरमौर में 25, सोलन में 37, ऊना में 19 के अलावा आईजीएमसी शिमला व मेडिकल कॉलेज टांडा में एक-एक मामला स्क्रब टाइफस पॉजिटिव पाया गया है, जबकि इसी अवधि के दौरान स्क्रब टाइफस से 6 लोगों की मृत्यु दर्ज की गई हैं। 

 

उन्होंने लोगों को सलाह दी कि किचन गार्डन में दवा का छिड़काव करें ताकि इस रोग के संक्रमण से बचा जा सकें। उन्होंने कहा कि इस रोग के उपचार के लिए सभी सरकारी अस्पतालों में आवश्यक दवाएं उपलब्ध करवाई गई हैं।

 

हिमाचलियों को विदेशी रहन सहन समझने में मदद करेगी हिमाचली प्रवासी ग्लोबल एसोसिएशन 

कनाडा में मदद : हिमाचलियों को विदेशी रहन सहन समझने में मदद करेगी हिमाचली प्रवासी ग्लोबल एसोसिएशन 

न्यायमूर्ति सुरेश्वर ठाकुर की गरिमापूर्ण विदाई

फुल कोर्ट रेफरेंस आयोजित : न्यायमूर्ति सुरेश्वर ठाकुर की गरिमापूर्ण विदाई

राज्यपाल सचिवालय में ई-ऑफिस कार्यान्वित

500 फाइलें ऑनलाइन : राज्यपाल सचिवालय में ई-ऑफिस कार्यान्वित

पुलिस स्मृति दिवस पर राज्यपाल ने पुष्पांजलि अर्पित की

सर्वोच्‍च बलिदान को नमन : पुलिस स्मृति दिवस पर राज्यपाल ने पुष्पांजलि अर्पित की

आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से संबंधित 28 शिकायतों का निपटारा

हिमाचल उपचुनाव : आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन से संबंधित 28 शिकायतों का निपटारा

महर्षि वाल्‍मीकि का हमारी संस्‍कृति में सर्वोच्‍च स्‍थान: राज्‍यपाल

वाल्मीकि मंदिर में की पूजा-अर्चना : महर्षि वाल्‍मीकि का हमारी संस्‍कृति में सर्वोच्‍च स्‍थान: राज्‍यपाल

हिमाचल के मुख्‍य न्‍यायाधीश ने सुलभ, त्वरित और लागत प्रभावी न्याय प्रदान करने पर बल दिया

फुल कोर्ट रेफरेंस का आयोजन : हिमाचल के मुख्‍य न्‍यायाधीश ने सुलभ, त्वरित और लागत प्रभावी न्याय प्रदान करने पर बल दिया

हिमाचल की 55 फीसदी पात्र आबादी को लगाई जा चुकी है वैक्सीन की दूसरी डोज़

कोविड-19 टीकाकरण : हिमाचल की 55 फीसदी पात्र आबादी को लगाई जा चुकी है वैक्सीन की दूसरी डोज़

VIDEO POST

View All Videos