Thursday, June 30, 2022
BREAKING
अज्ञात वाहन की टक्कर से भोटा के मैकेनिक की मौत जल शक्ति विभाग को मिला प्रतीक चिन्ह, सीएम ने छात्रों को दी बधाई श्री मणिमहेश न्यास की बैठक आयोजित, एक हफ्ते पहले शुरू होगी हेलीकॉप्‍टर सेवा मुख्यमंत्री ने पुलिस की 160 करोड़ लागत की 43 परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास किए मंडी, कुल्लू और लाहौल-स्पीति के युवाओं के लिए मंडी में होगी अग्निवीरों की भर्ती खेलते हुए स्‍कूल में खोदे गड्ढे में गिरे दो मासूम भाई, डूबने से मौत थाने पहुंचा अफसरों का दंगल, एचएएस ने खाद्य आयोग के चेयरमैन को पीटा पासिंग के बदले 5.68 लाख वसूली कर होटल में रूके एमवीआई को विजिलेंस ने दलाल समेत दबोचा परिवार की आर्थिक तंगी से परेशान बीबीए की छात्रा ने की खुदकुशी महाक्विज का पांचवां राउंड शुरू, डॉ. सैजल ने किया शुभारंभ
June to July, 22

शिमला से जंजैहली पहला माउंटेन बाइकिंग इवेंट 23 जून से

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Tuesday, June 21, 2022 20:45 PM IST
शिमला से जंजैहली पहला माउंटेन बाइकिंग इवेंट 23 जून से

शिमला, 21 जून। पर्यटन एवं नागरिक उड्डयन विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि राज्य में पर्यटन गतिविधियों और साइकिलिंग संस्कृति को बढ़ावा देने और हिमाचल  की खूबसूरती को दुनिया के सामने लाने के लिए शिमला से जंजैहली तक पहला माउंटेन बाइकिंग कार्यक्रम 23 से 26 जून, 2022 तक हिमालयन एडवेंचर स्पोर्ट्स एंड टूरिज्म प्रमोशन एसोसिएशन (एचएएसटीपीए) व हिमाचल पर्यटन विभाग के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है।

 

चार दिवसीय माउंटेन बाइकिंग दौड़ का आरम्भ 23 जून से शिमला से होगा जबकि इसका समापन 26 जून को जंजैहली में होगा। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर 23 जून को शिमला में माउंटेन बाइकिंग को रवाना करेंगे।

 

उन्होंने बताया कि साइक्लिस्ट राज्य की समृद्ध परम्परा, विरासत और संस्कृति का प्रदर्शन करते हुए शिमला मुख्य शहर का चक्कर लगाएगे। इसके पश्चात 24 जून, 2022 को मशोबरा से मुख्य दौड़ आरम्भ होगी जबकि तीन प्रतिस्पर्दात्मक चरणों के बाद 26 जून, 2022 को जंजैहली में यह समाप्त होगी। साइकिल दौड़ का पहला चरण 24 जून को मशोबरा से चिंडी तक और रात्रि पड़ाव चिंडी में होगा। दूसरा चरण 25 जून को चिंडी से जंजैहली तक और रात्रि ठहराव जंजैहली में होगा। बाइकिंग के तीसरे चरण का समापन 26 जून को जंजैहली में होगा। समापन समारोह का आयोजन भी जंजैहली में किया जाएगा।

 

यह बाइकिंग दौड़ 180 कि.मी. की होगी। शिकारी माता मंदिर के समीप समुद्र तल से इसकी अधिकतम ऊंचाई 2750 मीटर और न्यूनतम ऊंचाई सतलुज नदी के ऊपर 800 मीटर तत्तापानी में होगी। पहले दिन की दौड़ का मार्ग शिमला-संजौली-ढली-मशोबरा-डाक बंग्ला होगा। दूसरे दिन का मार्ग डाक बांग्ला-सीपुर-बल्देया-नालदेहरा-बसंतपुर-चाबा-सुन्नी-तत्तापानी-अलसिड़ी-कोटबैंक-चुराग-चिंडी होगा। तीसरे दिन की दौड़ का मार्ग चिंडी-कोट करसोग बाजार-सनारली-शंकर देहरा-रायगढ़-भूलाह-जंजैहली बाजार होगा, जबकि चौथे दिन का मार्ग जंजैहली-जरोल-बनियाद-थुनाग-जरोल-जंजैेहली निर्धारित किया गया है।

 

बाइकिंग दौड़ में राज्य के 6 जिलों शिमला, सोलन, बिलासपुर, कांगड़ा, मंडी और कुल्लू के प्रतिभागी शामिल होंगे जबकि प्रदेश के बाहर से 8 राज्यों उत्तराखंड, हरियाणा, मध्य प्रदेश, दिल्ली, यूपी, चंडीगढ़ और जम्मू-कश्मीर के अलावा दिल्ली पुलिस, एसएसबी, सेना और भारतीय सैन्य अकादमी के प्रतिभागी इसमें भाग लेंगे।

 

जल शक्ति विभाग को मिला प्रतीक चिन्ह, सीएम ने छात्रों को दी बधाई

उदयपुर की घटना की निंदा : जल शक्ति विभाग को मिला प्रतीक चिन्ह, सीएम ने छात्रों को दी बधाई

मुख्यमंत्री ने पुलिस की 160 करोड़ लागत की 43 परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास किए

20 नए वाहन रवाना किए : मुख्यमंत्री ने पुलिस की 160 करोड़ लागत की 43 परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास किए

महाक्विज का पांचवां राउंड शुरू, डॉ. सैजल ने किया शुभारंभ

‘स्वस्थ हिमाचल-समृद्ध हिमाचल’ थीम : महाक्विज का पांचवां राउंड शुरू, डॉ. सैजल ने किया शुभारंभ

नशीले पदार्थों की समस्या से निपटने और राज्य को नशा मुक्त बनाने के लिए व्यापक योजना तैयार: सीएम

अभियान शुरू : नशीले पदार्थों की समस्या से निपटने और राज्य को नशा मुक्त बनाने के लिए व्यापक योजना तैयार: सीएम

केंद्र ने क्लस्टर विकास कार्यक्रम के तहत 22.29 करोड़ की दो परियोजनाएं स्वीकृत कीं: सीएम

बुनियादी ढांचा विकास : केंद्र ने क्लस्टर विकास कार्यक्रम के तहत 22.29 करोड़ की दो परियोजनाएं स्वीकृत कीं: सीएम

कैबिनेट में 3970 पैरा वर्करों की भर्ती स्वीकृत, अग्निवीरों को नौकरी, विभागों में भरेंगे सैकड़ों पद

मंत्रिमंडल बैठक : कैबिनेट में 3970 पैरा वर्करों की भर्ती स्वीकृत, अग्निवीरों को नौकरी, विभागों में भरेंगे सैकड़ों पद

मुख्यमंत्री ने शतरंज ओलंपियाड की मशाल रिले प्राप्त की

चेन्नई में होगी प्रतियोगिता : मुख्यमंत्री ने शतरंज ओलंपियाड की मशाल रिले प्राप्त की

हर महिला एक नेता, नेतृत्व सिखाने की कोई जरूरत नहीं

अखिल भारतीय क्षमता निर्माण कार्यक्रम : हर महिला एक नेता, नेतृत्व सिखाने की कोई जरूरत नहीं

VIDEO POST

View All Videos
X