Friday, February 23, 2024
BREAKING
पुलिस डाइट मनी में 5 गुणा बढ़ोतरी पर सीएम का आभार व्यक्त किया रास चुनाव में सीएम ने तीनों निर्दलीय विधायकों के समर्थन का दावा किया सीएम कह रहे योजनाएं बंद नहीं हुई तो सहारा योजना का भुगतान क्‍यों रूका: जयराम ठाकुर 102 अध्यापक जाएंगे विदेश, सीएम ने अंतरराष्ट्रीय भ्रमण कार्यक्रम का शुभारंभ किया एसपी के पद पर तैनात होंगे सात एचपीएस अधिकारी मुख्यमंत्री ने हिमाचल प्रदेश लैंड कोड के नवीन संस्करण का अनावरण किया बल्‍क ड्रग और मेडिकल डिवाइस पार्क पर उद्योगमंत्री और सीएम के अलग सुर: जयराम ठाकुर स्‍कूटी सवार हिमाचल पुलिस के एएसआई को रौंद फरार हुई कार, मौत होटल वाइल्ड फ्लावर हॉल मामला: सुप्रीम कोर्ट में भी जीती हिमाचल सरकार बिना बजट के घोषणाओं वाले हवा-हवाई सीएम बने सुक्खू : जयराम ठाकुर
 

एनएलएफबी के सभी उग्रवादी आत्मसमर्पण करेंगे:सरमा

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Thursday, July 22, 2021 17:34 PM IST
एनएलएफबी के सभी उग्रवादी आत्मसमर्पण करेंगे:सरमा

गुवाहाटी, 22 जुलाई। असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्व सरमा ने कहा कि नव गठित उग्रवादी संगठन नेशनल लिबरेशन फ्रंट ऑफ बोडोलैंड (एनएलएफबी) के सभी सदस्य बृहस्पतिवार को आत्मसमर्पण करेंगे। जनवरी 2020 में तीसरे बोडो शांति समझौते पर हस्ताक्षर के बाद एम. बाथा के नेतृत्व में एनडीएफबी के कुछ असंतुष्ट सदस्यों के जंगल में लौटने के बाद यह संगठन बना लिया था। यह ज्यादातर बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र (बीटीआर) में सक्रिय था। सरमा ने ट्वीट किया कि ‘एनएलएफबी के आज मुख्यधारा में लौटने के फैसले से यह पता चलता है कि लोगों का सरकार की नीतियों में भरोसा है। मैं उनकी घर वापसी का स्वागत करता हूं।’

 

 

उन्होंने कहा कि असम सरकार बीटीआर के संपूर्ण विकास के लिए प्रतिबद्ध है और वह बोडो लोगों की विशिष्ट सामाजिक-सांस्कृतिक तथा राजनीतिक पहचान की रक्षा करेगी। पुलिस महानिदेशक भास्कर ज्योति महंत ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि पूरा संगठन आत्मसमर्पण करेगा। बहरहाल, उन्होंने यह बताने से इनकार कर दिया कि उग्रवादी समूह के कितने उग्रवादी हथियार छोड़ेंगे।असम पुलिस के एक सूत्र ने बताया कि एनएलएफबी प्रमुख एम बाथा के साथ अन्य सदस्य आत्मसमर्पण करेंगे।

एनएफटी, एआई और मेटावर्स के युग में अपराध और सुरक्षा: उभरती चुनौतियों का समाधान

विचार : एनएफटी, एआई और मेटावर्स के युग में अपराध और सुरक्षा: उभरती चुनौतियों का समाधान

क्रिप्टोकरेंसी और डार्कनेट की चुनौतियां: 20% खतरनाक आपराधिक हमलों से लिंक

विष्‍लेषण : क्रिप्टोकरेंसी और डार्कनेट की चुनौतियां: 20% खतरनाक आपराधिक हमलों से लिंक

भारत और अमेरिका की प्रौद्योगिकी संचालित समान सहयोग के युग की शुरुआत

एआई फैंडशिप : भारत और अमेरिका की प्रौद्योगिकी संचालित समान सहयोग के युग की शुरुआत

मोबाइल फोन के क्षेत्र में भारत की प्रगति मैन्यूफैक्चरिंग की दृष्टि से बड़ी सफलता

पलटवार : मोबाइल फोन के क्षेत्र में भारत की प्रगति मैन्यूफैक्चरिंग की दृष्टि से बड़ी सफलता

पंचायती राज संस्थाओं के सशक्तिकरण के तीन दशक

लेख : पंचायती राज संस्थाओं के सशक्तिकरण के तीन दशक

नए भारत में डॉ. अम्बेडकर की स्वीकार्यता: 132वीं जयंती पर विशेष

विचार : नए भारत में डॉ. अम्बेडकर की स्वीकार्यता: 132वीं जयंती पर विशेष

डिजिटलीकरण: भारतीय अर्थव्यवस्था का एक अनूठा प्रेरक

विचार : डिजिटलीकरण: भारतीय अर्थव्यवस्था का एक अनूठा प्रेरक

कृषि-वानिकी के क्षेत्र में क्रांति के लिए वन संरक्षण अधिनियम में उदारीकरण

विचार : कृषि-वानिकी के क्षेत्र में क्रांति के लिए वन संरक्षण अधिनियम में उदारीकरण

VIDEO POST

View All Videos
X