Friday, October 22, 2021
BREAKING
हिमाचलियों को विदेशी रहन सहन समझने में मदद करेगी हिमाचली प्रवासी ग्लोबल एसोसिएशन  डीसी ने हमीरपुर अस्पताल में किया दो अत्याधुनिक मशीनों का लोकार्पण मां के पास खेल रही बच्ची को छीन ले गई मौत, टैंक में मिला शव न्यायमूर्ति सुरेश्वर ठाकुर की गरिमापूर्ण विदाई शादी से लौटते समय बारात की कार पेड़ से टकराई, दो युवकों की मौत, 3 घायल बहुतकनीकी संस्थान चंबा में दी एंटी रैगिंग एक्‍ट की जानकारी उपचुनावों में कांग्रेस का मुकाबला आजाद प्रत्‍याशियों से, भाजपा तीसरे नंबर पर: डॉ. राजेश कांग्रेस के पास न तो कोई नेता है ओर नही नीति: त्रिलोक कपूर राज्यपाल सचिवालय में ई-ऑफिस कार्यान्वित आईटीआई जोगिंद्रनगर के प्रशिक्षुओं ने निकाली बाईक रैली

ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत होंगे असंगठित क्षेत्र के सभी कर्मचारी और कामगार

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Tuesday, October 12, 2021 18:18 PM IST
ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत होंगे असंगठित क्षेत्र के सभी कर्मचारी और कामगार

हमीरपुर,12 अक्तूबर। असंगठित क्षेत्र में कार्य कर रहे सभी कामगारों, छोटे दुकानदारों, रेहड़ी-फड़ी वालों और ईपीएफ की सुविधा से वंचित सभी कर्मचारियों को सरकार की विभिन्न योजनाओं एवं सुविधाओं से लाभान्वित करने के लिए इन्हें केंद्रीय श्रम मंत्रालय के वेब पोर्टल ई-श्रम पर पंजीकृत किया जाएगा। हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर जिला में भी इन सभी कामगारों एवं कर्मचारियों के पंजीकरण के लिए व्यापक अभियान चलाया जाएगा। उपायुक्त देबश्वेता बनिक ने मंगलवार को डीआरडीए के सम्मेलन हॉल में विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक करके इस अभियान की रूपरेखा तय की तथा सभी विभागों को 30 नवंबर तक अपने-अपने कार्यक्षेत्रों के अंतर्गत आने वाले कर्मचारियों, कामगारों, छोटे दुकानदारों और अन्य सभी पात्र लोगों का पंजीकरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

उपायुक्त ने बताया कि मनरेगा वर्कर्स, आंगनबाड़ी कर्मचारी, आशा वर्कर्स, मिड-डे मील वर्कर्स, वाटर गाड्र्स, छोटे दुकानदार, रेहड़ी-फड़ी वाले, भवन एवं अन्य निर्माण कार्यों के कामगार, मछुआरे, निजी बस ड्राईवर-कंडक्टर, टैक्सी व थ्री व्हीलर चालक, मालवाहक वाहनों के ड्राईवर-क्लीनर और ईपीएफ सुविधा से वंचित कर्मचारी ई-श्रम पोर्टल पर अपना पंजीकरण करवा सकते हैं। ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकृत लोगों को ई-श्रम कार्ड प्रदान किए जाएंगे, जोकि पूरे देश में मान्य होंगे। इस कार्ड के माध्यम से दुर्घटना बीमा और सामाजिक सुरक्षा से संबंधित कई अन्य सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

 

उपायुक्त ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे श्रम विभाग के सहयोग से अपने-अपने विभागों के पात्र कर्मचारियों का पंजीकरण सुनिश्चित करें। इन कर्मचारियों के अलावा विभाग के कार्यों में लगे कामगारों को भी पंजीकरण के लिए प्रेरित करें। अगर इन कामगारों को कोई दिक्कत होगी तो उनकी मदद भी करें। शहरी क्षेत्रों में सभी छोटे दुकानदारों और रेहड़ी-फड़ी वालों के पंजीकरण के लिए व्यापार मंडल की मदद भी ली जा सकती है। उपायुक्त ने बताया कि पात्र लोग लोक मित्र केंद्रों के माध्यम से या स्वयं भी ई-श्रम पोर्टल पर अपना पंजीकरण कर सकते हैं। इसके लिए केवल आधार नंबर, बैंक खाता विवरण और आधार लिंक्ड मोबाइल नंबर की आवश्यकता होगी।

 

बैठक में श्रम निरीक्षक रामलाल शर्मा ने ई-श्रम पोर्टल के संबंध में विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर सहायक आयुक्त रमन घरसंगी, आरटीओ वीरेंद्र शर्मा, डीआरडीए के परियोजना अधिकारी केडीएस कंवर और अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।  

 

 भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड में भी पंजीकरण करवाएं कामगार

उपायुक्त ने कहा कि हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड ने भी श्रमिकों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं आरंभ की हैं। पात्र श्रमिकों को इन योजनाओं का लाभ लेने के लिए श्रम विभाग के माध्यम से अपना पंजीकरण करवाना चाहिए। मनरेगा या अन्य निर्माण कार्यों में साल भर में कम से कम 90 दिन कार्य कर चुके लोग कामगार कल्याण बोर्ड में अपना पंजीकरण करवा सकते हंै। उपायुक्त ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने क्षेत्रों के कामगारों को पंजीकरण के लिए प्रेरित करें, ताकि वे बोर्ड की योजनाओं का लाभ उठा सकें।

VIDEO POST

View All Videos