Thursday, June 20, 2024
BREAKING
डॉ राजेश शर्मा को सीएम आवास में बंधक बनाकर बात मनवाना शर्मनाक:जयराम ठाकुर श्रीलंका में जाइका प्रोजेक्ट का मॉडल बनेगा हिमाचल, धर्मशाला-पालमपुर पहुंचे 11 प्रतिनिधि बिकने के बाद भाजपा के गुलाम हुए 3 पूर्व निर्दलीय विधायक: मुख्यमंत्री सरकार की तनाशाही के कारण निर्दलीय विधायकों को देना पड़ा इस्तीफ़ा: जयराम ठाकुर कांग्रेस ने देहरा विस उपचुनाव में सीएम की पत्‍नी कमलेश ठाकुर को मैदान में उतारा सरकारी विभागों में 6630 पद भरेे जाएंगे, कांस्‍टेबल भर्ती की आयु सीमा में 1 साल की छूट कण्डाघाट में दिव्यांगजनों के लिए स्थापित होगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस: मुख्यमंत्री कहां गई सुक्खू सरकार की स्टार्टअप योजना: जयराम ठाकुर मुख्यमंत्री ने एनआरआई दम्पति पर हमले की कड़ी निंदा की, कार्रवाई के निर्देश गलत साइड से ओवरटेक करते ट्रक से टकराई बाइक, युवक की मौत
 

जनजातीय क्षेत्रों में नौतोड़ भूमि उपलब्ध करवाने के लिए प्रयास जारी: जगत सिंह नेगी

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Monday, June 10, 2024 18:30 PM IST
जनजातीय क्षेत्रों में नौतोड़ भूमि उपलब्ध करवाने के लिए प्रयास जारी: जगत सिंह नेगी

शिमला, 10 जून। जनजातीय विकास मंत्री जगत सिंह नेगी ने आज यहां शिमला से जारी प्रेस वक्तव्य के दौरान कहा कि प्रदेश सरकार जनजातीय क्षेत्रों में पात्र लोगों को नौतोड़ भूमि प्रदान करने के लिए प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि राज्य में हिमाचल प्रदेश नौतोड़ भूमि नियम 1968 के तहत 20 बीघा से कम भूमि वाले पात्र लाभार्थियों को 20 बीघा सरकारी भूमि प्रदान करने का प्रावधान किया गया था। इसके तहत जनजातीय लोगों को लाभान्वित किया गया है।

जगत सिंह नेगी ने कहा कि वन संरक्षण अधिनियम-1980 के फलस्वरूप प्रदेश में प्रार्थियों को नौतोड़ भूमि आबंटित नहीं की जा सकी। लोगों की मांग को देखते हुए वर्ष 2014 में कांग्रेस सरकार ने भारतीय संविधान के अनुच्छेद-5 के तहत वन संरक्षण अधिनियम 1980 को निलंबित किया जो वर्ष 2016 तक तथा उसके पश्चात वर्ष 2016 से 2018 तक जारी रहा। इस दौरान पात्र लाभार्थियों को नौतोड़ भूमि प्रदान की गई। दिसम्बर, 2017 में सरकार बदलने पर इस प्रावधान के तहत केवल एक लाभार्थी को नौतोड़ भूमि आबंटित की गई जबकि वर्ष 2018 तक नौतोड़ भूमि प्रदान की जा सकती थी। नौतोड़ के कई मामले अभी भी लम्बित पड़े हैं।

 

जनजातीय विकास मंत्री ने बताया कि वर्ष 2020 में जन आंदोलन के कारण भाजपा सरकार को प्रदेश में एक साल के लिए नौतोड़ का प्रावधान लागू करना पड़ा लेकिन इस दौरान किसी भी व्यक्ति को लाभ प्रदान नहीं किया गया। वर्ष 2023 में कांग्रेस सरकार ने नौतोड़ भूमि प्रदान करने के लिए राज्यपाल से वन संरक्षण अधिनियम 1980 को जनजातीय क्षेत्रों से हटाने का आग्रह किया। गत शुक्रवार को पुनः राज्यपाल से निवेदन कर जनजातीय लोगों की इस मांग को पुनः प्रस्तुत किया गया ताकि पात्र लाभार्थियों को नौतोड़ भूमि प्रदान की जा सके।

डॉ राजेश शर्मा को सीएम आवास में बंधक बनाकर बात मनवाना शर्मनाक:जयराम ठाकुर

बयान : डॉ राजेश शर्मा को सीएम आवास में बंधक बनाकर बात मनवाना शर्मनाक:जयराम ठाकुर

सरकारी विभागों में 6630 पद भरेे जाएंगे, कांस्‍टेबल भर्ती की आयु सीमा में 1 साल की छूट

मंत्रिमंडल बैठक : सरकारी विभागों में 6630 पद भरेे जाएंगे, कांस्‍टेबल भर्ती की आयु सीमा में 1 साल की छूट

कण्डाघाट में दिव्यांगजनों के लिए स्थापित होगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस: मुख्यमंत्री

प्रतिबद्धता : कण्डाघाट में दिव्यांगजनों के लिए स्थापित होगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस: मुख्यमंत्री

कहां गई सुक्खू सरकार की स्टार्टअप योजना: जयराम ठाकुर

सवाल : कहां गई सुक्खू सरकार की स्टार्टअप योजना: जयराम ठाकुर

मुख्यमंत्री ने एनआरआई दम्पति पर हमले की कड़ी निंदा की, कार्रवाई के निर्देश

प्रतिक्रिया : मुख्यमंत्री ने एनआरआई दम्पति पर हमले की कड़ी निंदा की, कार्रवाई के निर्देश

पुलिस की कार्यप्रणाली पर लग रहे आरोप दुर्भाग्यपूर्ण, संज्ञान लें सीएम: जयराम ठाकुर

सवाल : पुलिस की कार्यप्रणाली पर लग रहे आरोप दुर्भाग्यपूर्ण, संज्ञान लें सीएम: जयराम ठाकुर

सीएम कुर्सी बचाने में व्यस्त, प्रदेश में क़ानून-व्यवस्था तबाह : जयराम ठाकुर

चिंता : सीएम कुर्सी बचाने में व्यस्त, प्रदेश में क़ानून-व्यवस्था तबाह : जयराम ठाकुर

मेधा प्रोत्साहन योजना के तहत कोचिंग फंड के लिए 23 जून तक करें आवेदन

आमंत्रण : मेधा प्रोत्साहन योजना के तहत कोचिंग फंड के लिए 23 जून तक करें आवेदन

VIDEO POST

View All Videos
X