Thursday, December 01, 2022
BREAKING
घास काट रहा व्‍यक्‍ति पांव फिसलने से खाई में गिरा, मौत दुर्घटनाओं में दो बाइक सवार युवकों की जान गई सड़क किनारे खड़े बुजुर्ग को बैक हो रहे टिप्‍पर ने मारी टक्‍कर, मौत सड़क किनारे पड़ा मिला युवक का शव, पुलिस जांच में जुटी कारोबारी की डंडों से पीट-पीट कर हत्‍या की, दो गिरफ्तार मोटर साइकिल पर लिफ्ट देकर महिला को ले गया जंगल और किया दुष्‍कर्म चुवाड़ी में 1 दिसंबर को होगा पूर्व सैनिक व उनके परिवारों का स्वास्थ्य जांच शिविर वन खेल-कूद प्रतियोगिता: 100 मीटर दौड़ में मनीष ने मारी बाजी कार खाई में गिरते ही बनी आग का गोला, फौजी और एक बच्‍चा थे सवार तरसूह हत्‍याकांड: प्रेम प्रसंग के चलते दुश्‍मनी में बदली दोस्‍ती और फिर हुआ खून
 

हिमाचल प्रदेश में मनाया गया जनजातीय गौरव दिवस

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Tuesday, November 15, 2022 20:24 PM IST
हिमाचल प्रदेश में मनाया गया जनजातीय गौरव दिवस

शिमला, 15 नवंबर। भारत सरकार ने वर्ष 2021 से जनजातीय स्वतंत्रता सेनानी ‘बिरसा मुंडा’ की जयंती के अवसर पर 15 नवंबर को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। बिरसा मुंडा न केवल एक स्वतंत्रता सेनानी, बल्कि समाज सुधारक थे जिन्होंने ब्रिटिश औपनिवेशिक सरकार की शोषणकारी व्यवस्थाओं के खिलाफ उलगुलान (विद्रोह) जनजातीय आंदोलन का नेतृत्व किया था।

 

उन्हें धरती अब्बा के रूप में भी जाना जाता है क्योंकि उन्होंने जनजातीय लोगों को उनकी सांस्कृतिक जड़ों को समझने और एकता का पालन करने के लिए प्रोत्साहित किया था।

 

जनजातीय गौरव दिवस पूरे अनुसूचित क्षेत्रों में देशभक्ति के उत्साह के साथ मनाया गया। इस अवसर पर कई सांस्कृतिक कार्यक्रम, स्वच्छता अभियान, जनजातीय गीत व नृत्य एवं चित्रकला प्रतियोगिताएं आयोजित की गईं।

 

इस उपलक्ष्य में भरमौर में पट्टी से चौरासी परगना तक एक रैली आयोजित की गई। इस मौके पर सरकारी कर्मचारियों, स्वयं-सहायता समूहों, स्कूली बच्चों, महिला मंडलों आदि ने भी बड़ी संख्या में भाग लिया और पारंपरिक पोशाकों, आभूषण पहन कर जनजातीय संस्कृति की आकर्षक आभा प्रस्तुत की। चौरासी परगना पहुंचने के बाद महिलाओं द्वारा आकर्षक जनजातीय नृत्य भी किया गया।

 

पांगी क्षेत्र में पारंपरिक जीवन शैली, स्वदेशी कृषि पद्धतियों को प्रदर्शित करती झाँकियां और फुलयात्रा, जोकारू इत्यादि मुख्य आकर्षण रहे। इस कार्यक्रम में लगभग 300 लोगों ने पारंपरिक परिधान पहनकर भाग लिया।

 

लाहौल-स्पीति जिले में स्कूलों में वाद-विवाद प्रतियोगिताएं, नारे, पोस्टर बनाने की प्रतियोगिताएं और सांस्कृतिक प्रस्तुतियां मुख्य आकर्षण रहीं। केलांग में लगभग 150 लोग एकत्रित हुए और शहर के बाजार में शोभा यात्रा निकाली गई। काजा में स्वच्छता अभियान और चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता में जनजातीय नेताओं के योगदान व जीवनी पर प्रकाश डाला गया।

कार खाई में गिरी, छुट्टी पर आए सेना के जवान की मौत

दुर्घटना : कार खाई में गिरी, छुट्टी पर आए सेना के जवान की मौत

मानसिक स्वास्थ्य और सुखमय जीवन स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए नितांत आवश्यकः मुख्य सचिव

बैठक आयोजित : मानसिक स्वास्थ्य और सुखमय जीवन स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए नितांत आवश्यकः मुख्य सचिव

मुख्य सचिव ने सर्दियों के मौसम की तैयारियों के लिए समीक्षा बैठक की

कवायद : मुख्य सचिव ने सर्दियों के मौसम की तैयारियों के लिए समीक्षा बैठक की

वर्तमान परिप्रेक्ष्य में राष्ट्र निर्माण में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण: सुभासीष पन्डा

प्रेस दिवस : वर्तमान परिप्रेक्ष्य में राष्ट्र निर्माण में मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण: सुभासीष पन्डा

ड्राई डे के आदेशों की अवहेलना पर सुबाथू में वाइन परिसर सील, प्रदेश भर में अभियान जारी

कार्रवाई : ड्राई डे के आदेशों की अवहेलना पर सुबाथू में वाइन परिसर सील, प्रदेश भर में अभियान जारी

राज्यपाल ने अंतरराष्ट्रीय लवी मेले का शुभारंभ किया

सांस्कृतिक उत्सव : राज्यपाल ने अंतरराष्ट्रीय लवी मेले का शुभारंभ किया

शिमला में आग की भेंट चढ़ा दो मंजिला मकान, लाखों का नुकसान

घटना : शिमला में आग की भेंट चढ़ा दो मंजिला मकान, लाखों का नुकसान

आचार संहिता में अब तक 50.84 करोड़ की जब्‍ती, हजारों लीटर शराब शामिल

हिमाचल चुनाव : आचार संहिता में अब तक 50.84 करोड़ की जब्‍ती, हजारों लीटर शराब शामिल

X