Thursday, August 18, 2022
BREAKING
ओबीसी आयोग अध्यक्ष ने शहरी इलाकों में ओबीसी जनसंख्‍या के सही आकलन के आदेश दिए मिड-डे मील योजना के तहत 3711.10 लाख रुपये जारी सीएम इंदौरा-फतेहपुर में 18 अगस्‍त को करेंगे हिमाचल स्थापना के 75 वर्ष समारोह का आगाज आबकारी एवं कराधान विभाग ने क्रशर फर्म पर ठोका 3.66 करोड़ जुर्माना सिक्योरिटी गार्ड के 150 पदों के लिए इंटरव्‍यू 22 अगस्त को हमीरपुर में नशे के कारोबारी का घर, होटल, वाहन व बैंक खाते सीज कांग्रेस को दोहरा झटका, विधायक पवन काजल व लखविंदर राणा भाजपा में शामिल मंडी में होगा परिवहन ट्रिब्यूनल का मुख्यालय, अधिसूचना जारी मुख्यमंत्री ने बलदेयां और कोट में उप-तहसील तथा कोटी में 33 केवी विद्युत उप-केन्द्र की घोषणा की सीएम ने ठियोग में 82 करोड़ की 19 परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए
August to Sept. 22

केंद्र ने एनडीए में महिलाओं की भर्ती का फैसला किया: एएसजी

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Wednesday, September 08, 2021 18:08 PM IST
केंद्र ने एनडीए में महिलाओं की भर्ती का फैसला किया: एएसजी

नई दिल्ली, 08 सितंबर। केंद्र ने बुधवार को उच्चतम न्यायालय को बताया कि सशस्त्र बलों ने राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) में महिलाओं की भर्ती करने का फैसला किया है। केंद्र की ओर से अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल(एएसजी) ऐश्वर्या भाटी ने न्यायमूर्ति संजय किशन कौल और न्यायमूर्ति एम एम सुंदरेश की पीठ को बताया कि सरकार के साथ ही सशस्त्र बलों के उच्च स्तर पर फैसला लिया गया है कि एनडीए के जरिए स्थायी कमीशन के लिए महिलाओं की भी भर्ती की जाएगी।

 

भाटी ने हलफनामे के जरिए जानकारी देने के लिए न्यायालय की अनुमति मांगी। न्यायालय ने कहा कि वह समय-समय पर प्राधिकारियों को खुद इसे करने के लिए प्रेरित करता रहा है और उसका मानना है कि वे इसे करने के लिए सबसे ज्यादा उपयुक्त हैं। पीठ ने कहा कि ‘ऐसी राय है कि जब कुछ नहीं होता तो अदालत आगे आती है। आपको आश्वस्त कर दूं कि अदालत को हस्तक्षेप करने में खुशी नहीं होती और हम चाहेंगे कि सशस्त्र बल खुद यह करें। वे देश के सम्मानित बल हैं लेकिन लैंगिक समानता पर उन्हें और करने की आवश्यकता है और कभी-कभी प्रतिरोध अच्छा साबित नहीं होता।’

 

पीठ ने कहा कि ‘मैं खुश हूं कि सशस्त्र बलों के प्रमुख ने एक सकारात्मक फैसला लिया है। रिकॉर्ड में रखिए, हम मामले पर सुनवाई करेंगे। हम इस रुख से खुश हैं। हमें अगले हफ्ते मामले पर सुनवाई करने दीजिए। सुधार एक दिन में नहीं होते। हम इससे अवगत हैं।’ अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल ने पीठ को बताया कि ऐसा विचार पहले ही चल रहा था लेकिन वह केवल शुरुआती स्तर पर था। मामले पर सुनवाई के लिए दो हफ्ते बाद की तारीख तय की गई है।

 

उच्चतम न्यायालय वकील कुश कालरा की याचिका पर सुनवाई कर रहा है। इस याचिका में प्रतिष्ठित एनडीए में लैंगिक आधार पर योग्य महिलाओं को भर्ती नहीं करने का मुद्दा उठाते हुए इसे समानता के मौलिक अधिकार का कथित तौर पर उल्लंघन बताया गया था।

धर्मशाला में सुप्रीम कोर्ट के जज एमआर शाह को पड़ा दिल का दौरा,एयरलिफ्ट की तैयारी

टांडा में किया उपचार : धर्मशाला में सुप्रीम कोर्ट के जज एमआर शाह को पड़ा दिल का दौरा,एयरलिफ्ट की तैयारी

सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने उच्च न्यायालयों के 6 न्यायाधीश स्थानांतरित किए

अनुशंसा : सुप्रीम कोर्ट के कॉलेजियम ने उच्च न्यायालयों के 6 न्यायाधीश स्थानांतरित किए

कार्यकापालिका और विधायिका के चलते लंबित मामलों की भरमार: सीजेआई

जानबूझकर निष्क्रियता चिंताजनक : कार्यकापालिका और विधायिका के चलते लंबित मामलों की भरमार: सीजेआई

प्रधानमंत्री सुरक्षा चूक मामले में पूर्व न्यायाधीश की अध्यक्षता में जांच समिति गठित करेगा सुप्रीम कोर्ट

फैसला : प्रधानमंत्री सुरक्षा चूक मामले में पूर्व न्यायाधीश की अध्यक्षता में जांच समिति गठित करेगा सुप्रीम कोर्ट

टेलीविजन की परिचर्चाएं दूसरी चीजों से कहीं अधिक प्रदूषण फैला रही हैं: सुप्रीम कोर्ट

पराली जलाने का मामला : टेलीविजन की परिचर्चाएं दूसरी चीजों से कहीं अधिक प्रदूषण फैला रही हैं: सुप्रीम कोर्ट

अगले साल से लागू होंगे नीट-सुपर स्पेशियलिटी परीक्षाओं में बदलाव, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा

वैधता पर सवाल : अगले साल से लागू होंगे नीट-सुपर स्पेशियलिटी परीक्षाओं में बदलाव, केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा

पिछड़े वर्गों की जातिगत जनगणना प्रशासनिक रूप से कठिन है: केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा

सर्वोच्च सुनवाई : पिछड़े वर्गों की जातिगत जनगणना प्रशासनिक रूप से कठिन है: केंद्र ने सुप्रीम कोर्ट में कहा

पेगासस जासूसी मामले की जांच करेगी तकनीकी विशेषज्ञ समिति, अगले सप्‍ताह आएगा आदेश

सुप्रीम फैसला : पेगासस जासूसी मामले की जांच करेगी तकनीकी विशेषज्ञ समिति, अगले सप्‍ताह आएगा आदेश

VIDEO POST

View All Videos
X