Saturday, October 08, 2022
BREAKING
मुख्यमंत्री ने ऊना में 200 करोड़ की परियोजनाओं के लोकार्पण/शिलान्यास किए मौसा ने किया भांजी से दुष्‍कर्म, मेडिकल में गर्भवती पाई गई मंदिर जा रही महिला को अज्ञात वाहन ने रौंदा, मौत सीएम ने दसवीं तथा बारहवीं कक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया खलीणी में 6.45 करोड़ से निर्मित राज्य कृषि विपणन बोर्ड के कांप्लेक्स का लोकार्पण मंडी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के सामाजिक प्रभाव के आकलन की प्रक्रिया शुरू शोभायात्रा में माथा टेकने जा रहे पूर्व कैप्‍टन की ट्रक की चपेट में आकर मौत पीटीए नियमित अध्यापक संघ ने नियमितीकरण पर सीएम का आभार जताया 225 पदों के लिए को कैंपस इंटरव्यू 11 अक्तूबर को हिमाचल मंत्रिमंडल के ताबड़तोड़ फैसले पढ़ें आपके क्षेत्र को क्‍या मिला
Strip 1-5(4)

चिर प्रतिद्वंदी पाक के खिलाफ नए रवैये के साथ उतरेंगे भारत के जांबाज, मैच कल

एफ.आई.आर. लाइव डेस्क Updated on Saturday, August 27, 2022 18:57 PM IST
चिर प्रतिद्वंदी पाक के खिलाफ नए रवैये के साथ उतरेंगे भारत के जांबाज, मैच कल

दुबई, 27 अगस्त। बल्लेबाजी के नए दृष्टिकोण के साथ तैयार एक कप्तान और वापसी करने को बेताब एक अनुभवी बल्लेबाज की अगुवाई में भारत रविवार को यहां होने वाले एशिया कप के महत्वपूर्ण मैच में अपने चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान से बदला चुकता करने के लिए उतरेगा।

 

रोहित शर्मा और विराट कोहली पिछले एक दशक से सीमित ओवरों की क्रिकेट में भारतीय टीम के महत्वपूर्ण सदस्य रहे हैं लेकिन उन्हें 10 महीने पहले इसी मैदान पर टी-20 विश्वकप के दौरान पाकिस्तान से हार का करारा झटका सहना पड़ा था। भारत के यह दोनों अनुभवी बल्लेबाज अब कहानी बदलने के लिए पूरी तरह से बेताब होंगे।

 

रोहित जहां अपने अतिरिक्त आक्रामक बल्लेबाजी रवैये को अपने इस चिर प्रतिद्वंदी के खिलाफ नए आयाम देना चाहेंगे वही कोहली के लिए यह मुश्किल दौर से उबर कर फॉर्म में वापसी करने का उपयुक्त मंच होगा। भारतीय टीम का इससे भी बड़ा लक्ष्य ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्वकप के लिए अपनी टीम को अंतिम रूप देना होगा।

 

भारत और पाकिस्तान के बीच पिछले 10 वर्षों से द्विपक्षीय श्रृंखलाएं नहीं खेली गई और ऐसे में वह किसी बड़े टूर्नामेंट में ही आमने-सामने होते हैं। इस तरह से हुए एक दूसरे के खिलाड़ियों के खेल से अपरिचित रहते हैं। पिछली बार जब भारत ने पाकिस्तान का सामना किया था तो उन्हें पता नहीं था शाहीन शाह अफरीदी के खेल में कितना निखार आ गया है और इसका परिणाम यह रहा भारतीय टीम को 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा। अफरीदी ने अपने पहले दो ओवर में ही भारतीय खेमे में खलबली मचा दी थी।

 

लेकिन रविवार को अफरीदी पाकिस्तानी गेंदबाजी की अगुवाई करने के लिए मौजूद नहीं होंगे क्योंकि घुटना चोटिल होने के कारण वह इस टूर्नामेंट से बाहर हो गए हैं। भारत के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ के कई प्रयोगों के बावजूद भारतीय शीर्ष क्रम में लगभग वही बल्लेबाज हैं जो पिछले साल टी-20 विश्व कप में खेले थे। रोहित और ऋषभ पंत की जोड़ी ने अपने आक्रामक तेवरों के कारण काफी उम्मीदें जगाई हैं जबकि सूर्यकुमार यादव मैदान के चारों तरफ शॉट खेलने की अपनी काबिलियत के कारण भारतीय टीम के अहम खिलाड़ी बन गए हैं।

 

दीपक हुड्डा को भी आयरलैंड के खिलाफ पारी का आगाज करने का मौका दिया गया था लेकिन अब कोहली और केएल राहुल की वापसी हो गई है और ऐसे में इस महत्वपूर्ण मुकाबले के लिए अनुभवी खिलाड़ियों को ही मौका मिलने की संभावना है। राहुल ने 2022 में अभी तक एक भी टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं खेला है। कोहली के नाम पर वेस्टइंडीज के कमजोर आक्रमण के सामने एक अर्धशतक दर्ज है जबकि रोहित शर्मा भी बड़ी पारियां खेलने में नाकाम रहे हैं। लेकिन यह टीम इस महत्वपूर्ण मैच में नए दृष्टिकोण के साथ उतरेगी।

 

उप कप्तान राहुल ने शुक्रवार को कहा था कि भारतीय टीम का पिछले विश्वकप के बाद नया दृष्टिकोण के साथ खेलना अच्छा रहा है और उम्मीद है कि हम इसे यहां जारी रखेंगे। काफी कुछ हालांकि सूर्यकुमार, पंत और हार्दिक पंड्या के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। यह तीनों और फिनिशर की भूमिका निभा रहे दिनेश कार्तिक पाकिस्तानी आक्रमण पर हावी होने की कोशिश करेंगे।

 

जहां तक पाकिस्तान की बात है तो उसके कप्तान और मुख्य बल्लेबाज बाबर आजम अपने पुराने दिग्गज खिलाड़ियों से भिन्न हैं। वह शांत चित्त खिलाड़ी है जिसका की टीम को फायदा ही हुआ है। बाबर आजम और मोहम्मद रिजवान शीर्ष क्रम में मजबूत जोड़ी है और उन्होंने पिछले साल भारतीय लक्ष्य को हासिल करके अपनी काबिलियत का अच्छा सबूत दिया था। नंबर तीन पर फखर जमां अपनी ठोस बल्लेबाजी के लिए जाने जाते हैं लेकिन पाकिस्तान के अन्य बल्लेबाजों में निरंतरता का अभाव है। आसिफ अली, खुशदिल शाह और हैदर अली अच्छे खिलाड़ी हैं लेकिन उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अभी नियमित तौर पर एक जैसा प्रदर्शन नहीं किया है।

 

यदि पाकिस्तान को अफरीदी की कमी खलेगी तो भारत के लिए भी जसप्रीत बुमराह की अनुपस्थिति किसी झटके से कम नहीं है। वह पीठ की चोट के कारण इस टूर्नामेंट से बाहर हैं। उनके अलावा टी-20 के विशेषज्ञ गेंदबाज हर्षल पटेल भी पसलियों की चोट के कारण नहीं खेल पाएंगे। ऐसे में भुवनेश्वर कुमार को अंतिम ओवरों में युवा अर्शदीप सिंह का साथ मिल सकता है। रविंद्र जडेजा और हार्दिक पंड्या की उपस्थिति से टीम को अतिरिक्त संतुलन मिलता है लेकिन यह देखना दिलचस्प होगा कि रोहित और अंतरिम मुख्य कोच वीवीएस लक्ष्मण रविचंद्रन अश्विन या रवि विश्नोई के रूप में अतिरिक्त स्पिनर के साथ उतरते हैं या फिर तेज गेंदबाज अवेश खान पर ही भरोसा जताते हैं।

 

टीम इस प्रकार हैं।

 

भारत: रोहित शर्मा (कप्तान), केएल राहुल, विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, ऋषभ पंत, दीपक हुड्डा, दिनेश कार्तिक, हार्दिक पंड्या, रवींद्र जडेजा, आर अश्विन, युजवेंद्र चहल, रवि बिश्नोई, भुवनेश्वर कुमार, अर्शदीप सिंह, अवेश खान।

 

पाकिस्तान: बाबर आजम (कप्तान), शादाब खान, आसिफ अली, फखर जमान, हैदर अली, हारिस रउफ, इफ्तिखार अहमद, खुशदिल शाह, मोहम्मद नवाज, मोहम्मद रिजवान, नसीम शाह, शाहनवाज दहानी, उस्मान कादिर, मोहम्मद हसनैन, हसन अली।

 

मैच भारतीय समयानुसार शाम 7:30 पर शुरू होगा। (सौजन्‍य- पीटीआई-भाषा)

ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन में सदस्य बने दीपक शर्मा, ऊना में जोरदार स्वागत

नवनियुक्‍ति : ऑल इंडिया फुटबॉल फेडरेशन में सदस्य बने दीपक शर्मा, ऊना में जोरदार स्वागत

प्रो कबड्डी लीग का नया सत्र 7 अक्टूबर से, दर्शक भी आएंगे

खेल आयोजन : प्रो कबड्डी लीग का नया सत्र 7 अक्टूबर से, दर्शक भी आएंगे

भूटिया ने एआईएफएफ अध्यक्ष पद के लिए नए सिरे से नामांकन भरा

चुनाव : भूटिया ने एआईएफएफ अध्यक्ष पद के लिए नए सिरे से नामांकन भरा

प्रदेश स्तरीय 56वीं वरिष्ठ फुटबॉल प्रतियोगिता काल्पा में 17 से

14 टीमें लेंगी भाग : प्रदेश स्तरीय 56वीं वरिष्ठ फुटबॉल प्रतियोगिता काल्पा में 17 से

जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में ज्ञानेश्वरी को रजत, रितिका को कांस्य

भारोत्‍तोलन : जूनियर विश्व चैम्पियनशिप में ज्ञानेश्वरी को रजत, रितिका को कांस्य

मुंबई के खिलाफ नौ अप्रैल के मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे मैक्सवेल: हेसन

राहत : मुंबई के खिलाफ नौ अप्रैल के मैच के लिए उपलब्ध रहेंगे मैक्सवेल: हेसन

पेरिस ओलंपिक में पुरूष मुक्केबाजी स्पर्धायें कम, भारोत्तोलन और निशानेबाजी में भी बदलाव

बदलाव : पेरिस ओलंपिक में पुरूष मुक्केबाजी स्पर्धायें कम, भारोत्तोलन और निशानेबाजी में भी बदलाव

बोपन्ना और सानिया मियामी ओपन से बाहर

चुनौती समाप्‍त : बोपन्ना और सानिया मियामी ओपन से बाहर

VIDEO POST

View All Videos
X